Pradhanmantri Modi Pahunche Varansi Kya Bole Dev Deepawali Ke Awsar Par 

PM Modi Kolkata Visit Karenge Kya Hai Jaane Ki Jaane Ki Wajah

Pradhanmantri Modi Pahunche Varansi Kya Bole Dev Deepawali Ke Awsar Par,modi on kiasan bill,Modi visits varanasi,modi varansi pahunche,narendra modi pahunche varansi

Pradhanmantri Modi Pahunche Varansi }  कृषि कानून के विरोध में जारी किसान आंदोलन का असर देव दीपावली की चमक पर भी नजर आया है। देव दीपावली के मौके पर प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी अपने संसदीय क्षेत्र वाराणसी में पहुंचे।

इसके दौरान प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी ने बटन दबाकर वाराणसी-प्रयागराज सिक्स लेन हाईवे का लोकार्पण भी किया। और इसके बाद उनके पूरे भाषण में देव दीपावली की बजाये किसान ही छाए रहे थे। Pradhanmantri Modi Pahunche Varansi

गौर करने वाली बात यह है कि खजूरी में प्रधानमंत्री मोदी ने तककरीबन 40 मिनट तक लोगों को संबोधित किया। इसके दौरान करीब 26 मिनट तक वह किसानों के मुद्दों पर ही बोलते रहे।

प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी ने ऐसे किया अपने भाषण का आगाज Pradhanmantri Modi Pahunche Varansi

गौरतलब है कि प्रधानमंत्री मोदी ने वाराणसी के खजूरी में जनसभा को संबोधित किया। इसके बाद उनका पूरा ध्यान सिर्फ किसान और किसान आंदोलन पर रहा।

पीएम मोदी ने किसानों को अन्नदाता कहा और काशी की धरती से उन्हें नमस्कार भी किया। और इसके दौरान प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी ने बनारस के दशहरी और लंगड़ा आम से किसानों की बात की शुरूआत करी और वह अपनी बात को कृषि कानून तक ले गए। Pradhanmantri Modi Pahunche Varansi

एमएसपी से लेकर कृषि कानून तक बोले पीएम मोदी

प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी ने अपने इस भाषण में एमएसपी से लेकर कृषि कानून तक पर चर्चा की। उन्होंने कहा कि हमारी सरकार मंडियों को और आधुनिक बनाने के लिए करोड़ों रुपये का खर्च कर रही है।

उन्होंने कहा कि कृषि कानून के नए कानून के तहत मंडियां और एमएसपी नहीं हटाए जा रहे हैं। अगर कोई पुराने तरीके से ही लेन-देन को उचित समझता है तो नए कृषि कानून में कोई रोक नहीं लगाई है।इस कृषि कानून में नए कृषि सुधारों से नए विकल्प और नए कानूनी संरक्षण दिए गए हैं।

पीएम मोदी ने कहा की कि सरकार कानून बनाती है तो इसे समर्थन और विरोध दोनों ही मिलता है। पहले सरकार का फैसला किसी को भी पसंद नहीं आता था और विरोध होता था।

और अब प्रचार किया जाता है कि फैसला ठीक है, लेकिन आगे चलकर न पता नही है की क्या होगा।और जो नहीं होगा, उसे लेकर समाज में सिर्फ भ्रम फैलाया जा रहा है।और उनका यही काम है। Pradhanmantri Modi Pahunche Varansi

‘गंगाजल और छल ‘ से विपक्ष पर निशाना साधा

प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी ने अपने भाषण के दौरान विपक्ष पर जमकर साधा निशाना। वो बोले ‘आपको याद रखना है कि यही लोग पहले पीएम किसान सम्मान निधि को लेकर सवाल उठाया करते थे और ये लोग अफवाह फैलाते थे कि मोदी ने सिर्फ एक बार दो हजार रुपया दिए हैं दोबारा नहीं देंगे ।

और एक राज्य ने तो किसान सम्मान योजना लागू ही नहीं होने दिया था। इसके अलावा कर्जमाफी के नाम पर किसानों को धोखा भी दिया गया। Pradhanmantri Modi Pahunche Varansi

प्रधानमंत्री मोदी ने कहा कि मैं काशी की इस पवित्र धरती से कहना चाहता हूं कि अब छल से नहीं बल्कि गंगाजल जैसी नीयत से काम किया जा रहा है। भ्रम फैलाने वाले लोगों की सच्चाई देश के सामने आ रही है।

आज जिन किसानों को कृषि सुधारों पर शंकाएं हैं, वे भी आयने वाले समय में इनका लाभ उठाएंगे। अगर कोई पुराने तरीके से ही लेनदेन को ठीक समझता है तो उस पर भी कहीं कोई रोक नहीं लगी है।

नया कानून किसानों के लिए फायदेमंद है। इसमें किसानों को और आजादी भी दी गई है।

एमएसपी पर आंकड़े को भी बताया

(Pradhanmantri Modi Pahunche Varansi)

मोदी बोले कि 2014 से पहले पांच साल में पूरे देश में सिर्फ 650 करोड़ की दाल खरीदी गई। और हमारे पांच साल में 49 हजार करोड़ रुपयों की दालें MSP पर खरीदी गई, मतलब इसमें 75 गुना की बढ़ोतरी हुई है।

और पहले की सरकार ने MSP पर 2 लाख करोड़ का धान खरीदा था , हमने MSP के ज़रिए 5 लाख करोड़ किसान भाइयों तक पहुंचा दिए। उनकी सरकार ने पांच साल में MSP पर सिर्फ 1.5 लाख करोड़ का गेहूं खरीदा था , और जबकि हमने 3 लाख करोड़ का।

“Related Post”

Bihar Vidhansabha Me CM Nitesh Kumar Ne Khoya Aapa, Tejasvi Se Bole Dipti CM KISNE Banaya Tha ?

Kisano Ka Dilli Me Virodh Pradarshan Jaane Kya Hai Poora Mamla

UP Me Shaadi Ke Naye Kanoon Ab Sirf Itne Log Ho Sakenge Shaamil

 

Google