Wednesday, July 17, 2024
Homeउत्तर प्रदेशयोगी सरकार ने पेश किया 6.90 लाख करोड़ का बजट, इस बजट...

योगी सरकार ने पेश किया 6.90 लाख करोड़ का बजट, इस बजट को दिया खास नाम

आज यूपी का बजट विधानसभा में पेश किया गया है। यूपी के वित्त मंत्री मुकेश खन्ना ने बजट पेश करते हुए यूपी के विकास की बात कही है। बजट के ठीक बाद यूपी के सीएम योगी आदित्यनाथ प्रेस कॉफ्रेंस किया है। उन्होंने कहा कि देश की सबसे बड़ी आबादी वाला राज्य उत्तरप्रदेश प्रधानमंत्री मोदी के निर्देशन में आगे बढ़ रहा है। बजट हर बार किसी न किसी थीम पर आधारित रहा है। पहला बजट अन्नदाता किसान को समर्पित था। आज का बजट उत्तरप्रदेश के त्वरित सर्वसमावेशी आत्मनिर्भर बजट है।

सबका साथ, सबका विकास – सीएम योगी 

सीएम योगी ने कहा देश की सबसे बड़ी आबादी का राज्य यूपी सबका साथ सबका विकास की दिशा में पेश किया गया बजट प्रस्तुत किया गया। पहले किसानों को फिर इंफ़्रा और औद्योगिक विकास फिर महिला सम्मान उसके बाद कोरोना काल में रोजगार फिर अंत्योदय और यूपी की पूरी आबादी के विकास की थीम का बजट है।

ये बजट अमृतकाल का पहला बजट है

यह अमृत काल का पहला बजट है। 2016-17 में करीब 3 लाख 40 हजार के आसपास था। यूपी लगातार विकास के पथ पर दौड़ रहा है। 2022 के चुनाव में हमने जो लोक संकल्प पत्र में वायदे किये थे । उनमें से 110 वादों को इस बार शामिल किया गया है।

सुरेश खन्ना ने पेश किया 6.90 लाख करोड़ का बजट

प्रस्तुत बजट का आकार 06 लाख 90 हजार 242 करोड 43 लाख रुपये है। 32 हजार 721 करोड़ 96 लाख रुपये की नई योजनाएं सम्मिलित की गई हैं। राजकोषीय घाटा 84 हजार 883 करोड़ 16 लाख रुपये अनुमानित है। जो अनुमानित सकल राज्य घरेलू उत्पाद का 3.48 प्रतिशत है।

बजट की मुख्य बातें

>>   यूपी में 72000 स्टार्टअप काम कर रहे हैं। कौशल विकास योजना के तहत युवाओं को प्रशिक्षित किया गया है।

>>   कपड़ा उद्योग के तहत 31 हज़ार युवाओं को रोजगार देने का लक्ष्य रखा गया है।

>>  टैबलट और स्मार्टफोन के लिए 3600 करोड़, छात्र-छात्राओं को टैबलट और स्मार्टफोन मिलेंगे। यह स्वामी विवेकानंद युवा सशक्तिकरण योजना के पात्र छात्र-छात्राओं को टैबलेट/स्मार्टफोन देने हेतु।

>>   स्टार्टअप के लिये सीड फंड के लिए 100 करोड़ रुपये का प्रावधान है। वित्तीय वर्ष 2023-24 के बजट में 3600 करोड़ रुपये की व्यवस्था प्रस्तावित है, जिसमें उत्तर प्रदेश सूचना प्रौद्योगिकी एवं स्टार्टअप्स नीति के लिए 60 करोड़ रुपये है। स्वास्थ्य के लिए 12 हजार 631 करोड़ की व्यवस्था की गई है,

>>    हमारी सरकार द्वारा प्रदेश के लगभग 46 लाख 22 हजार गन्ना किसानों को वर्ष 2017 से अब तक 1,96,000 करोड रूपये से अधिक का रिकार्ड गन्ना मूल्य भुगतान कराया गया है। गन्ना उत्पादकता में 1,00,875 टन प्रति हेक्टेयर की वृद्धि हुई है।

>>   प्रदेश में कानून एवं शान्ति व्यवस्था को दृष्टिगत रखते हुए महिलाओं की अधिक से अधिक भागीदारी सुनश्चित करने हेतु 03 महिला पीएसी बटालियन का गठन किया जा रहा है।

>>     मुख्यमंत्री कन्या सुमंगला योजना के तहत 1050 करोड़ रु का प्रस्ताव पास किया है।

>>    बुन्देलखण्ड एक्सप्रेस-वे और डिफेन्स कॉरिडोर परियोजना के लिए 2023-24 के बजट में 550 करोड़ रुपये का प्रस्ताव दिया है। पूर्वाचल एक्सप्रेसवे एवं बुन्देलखण्ड एक्सप्रेसवे के किनारे 6 स्थानों पर औद्योगिक निर्माण संकुल बनाने का निर्णय लिया गया है। इनमें से 4 संकुल पूर्वांचल एक्सप्रेसवे के किनारे, 2 संकुल बुन्देलखण्ड एक्सप्रेस-वे के किनारे बनाए जाएंगे।

>>    कामगार मृत्यु व दिव्यांगता सहायता योजना के तहत कार्यस्थल पर किसी श्रमिक की मृत्यु होने पर 5 लाख रुपये, स्थायी दिव्यांगता पर 4 लाख रुपये एवं आंशिक दिव्यांगता पर 3 लाख रुपये की सहायता प्रदान की जाएगी।

>>   असंगठित क्षेत्र के कर्मकारों हेतु संचालित मुख्यमंत्री दुर्घटना बीमा योजना के लिये 12 करोड़ रुपये की व्यवस्था प्रस्तावित है।

read more : भूकंप के तेज झटकों से फिर थर्राया तुर्की, 6.4 रिक्टर स्केल पर कॉपी धरती

RELATED ARTICLES
- Advertisment -
Google search engine

Most Popular

Recent Comments