Wednesday, July 17, 2024
Homeदेशक्या आ गई कोरोना की अगली लहर ? एक दिन में दर्ज...

क्या आ गई कोरोना की अगली लहर ? एक दिन में दर्ज हुए 4 हजार से भी ज्यादा मामले

देश में एक बार फिर कोरोना मामले डराने लगे हैं। कोरोना को लेकर सावधान रहने की जरूरत है और गाइडलाइंस का पालन करना भी, क्योंकि आज यानी बुधवार 5 अप्रैल को एक बार फिर से इस साल कोरोना के सबसे ज्यादा मामले सामने आए हैं। केंद्रीय स्वास्थ्य मंत्रालय के जारी किए गए बुलेटिन के मुताबिक पिछले 24 घंटे में भारत में कोरोना से संक्रमित 4,435 नए मरीज मिले हैं।

इसके साथ ही पूरे देश में अब कोरोना से संक्रमित मरीजों की संख्या बढ़कर 23,091 हो गए हैं। कोरोना के मामलों में बढ़ोतरी के साथ ही अब मौत के मामले भी हर दिन रिकॉर्ड किए जा रहे हैं। बता दें कि दिल्ली में बीते दिन (4 अप्रैल) एक व्यक्ति की कोरोना से मौत हो गई. वहीं, महाराष्ट्र में 711 मामले सामने आने के साथ ही 4 लोगों ने कोरोना के कारण दम तोड़ दिया है। वहीं, उत्तराखंड में भी कोरोना ने टेंशन बढ़ा दी है।

24 घंटे में 15 मौतें, चार दिन में 40 ने गंवाई जान

कोरोना से होने वाली मौतें भी बढ़ गईं हैं। पिछले 24 घंटे के अंदर 15 लोगों ने जान गंवा दी। इनमें चार-चार केरल और महाराष्ट्र में मौतें हुईं। छत्तीसगढ़, दिल्ली, गुजरात, हरियाणा, कर्नाटक, पुडुचेरी और राजस्थान में एक-एक कोरोना संक्रमित ने जान गंवा दी। अब तक संक्रमण के चलते कुल पांच लाख 30 हजार 916 मौतें हो चुकी हैं।

यूपी में कोरोना जांच का दायरा बढ़ा रहे – डिप्‍टी सीएम बृजेश पाठक

यूपी के डिप्‍टी सीएम बृजेश पाठक ने कहा है कि यूपी में कोरोना के बढ़ते मामलों को देखते हुए हम कोरोना जांच का दायरा बढ़ा रहे हैं। यूपी के डिप्‍टी सीएम बृजेश पाठक ने कहा है कि अब कोई चिंताजनक स्थिति नहीं है। हम स्थिति पर कड़ी नजर रख रहे हैं और चिकित्सा अधिकारियों को पूरी तरह से सतर्क कर दिया गया है। कोई घबराहट की स्थिति नहीं है। 12-13 अप्रैल को मॉक ड्रिल करेंगे।

कोरोना के मामलो के बीच वकीलों को वर्चुअली पेश होने की छूट

सुप्रीम कोर्ट ने कोरोना के बढ़ते मामलों को देखते हुए वकीलों को वर्चुअली पेश होने की छूट दी। सीजेआई डीवाई चंद्रचूड़ ने कहा कि कोरोना के बढ़ते मामलों के बीच वकील वर्चुअली सुनवाई के लिए पेश हो सकते हैं। सीजेआई डीवाई चंद्रचूड़ ने कहा कि हमें अखबारों के माध्यम से पता चला है कि कोरोना के मामले बढ़ रहे हैं। वकील हाइब्रिड मोड से सुनवाई में शामिल हो सकते है।

कैसी रही पॉजिटिविटी दर ?

कोविड के कारण बढ़े केस में पॉजिटिविटी रेट (प्रति 100 टेस्ट में पॉजिटिव सैंपल) भी 15 दिनों में 0.6 से बढ़कर 1.1 हो गया है। मुख्य चिकित्सा अधिकारी ने कहा, हम वायरस के संचरण को खत्म करने के लिए ध्यान केंद्रित कर रहे हैं। प्रत्येक सकारात्मक मामले के लिए लगभग 50 व्यक्तियों का परीक्षण किया जा रहा है। लोगों को कोविड-19 प्रोटोकॉल का पालन करना शुरू करना चाहिए।

read more : मीडियावन चैनल को मिलेगा लाइसेंस,सुप्रीम कोर्ट ने कहा- एक स्वतंत्र प्रेस महत्वपूर्ण

RELATED ARTICLES
- Advertisment -
Google search engine

Most Popular

Recent Comments