Wednesday, June 19, 2024
Homeउत्तर प्रदेशपुलिस और बदमाशों के बीच एनकाउंटर, दोनों बदमाश हुए ढेर एक फरार

पुलिस और बदमाशों के बीच एनकाउंटर, दोनों बदमाश हुए ढेर एक फरार

पिछले काफी लंबे वक्त से शांत पड़े वाराणसी जिले में सोमवार सुबह फिर गोलियां तड़तड़ाईं। पुलिसिया इकबाल को चुनौती देने वाले दो बदमाशों को क्राइम ब्रांच ने मुठभेड़ में मार गिराया। हालांकि उनका तीसरा साथी भागने में कामयाब रहा। मुठभेड़ में क्राइम ब्रांच का एक सिपाही भी घायल हुआ। बड़ागांव थाना क्षेत्र के भेलखा गांव में रिंग रोड के समीप मुठभेड़ हुई। इस दौरान आमने-सामने की कई राउंड फायरिंग हुई। गोलियों की तडतड़ाहट से पूरा इलाका थर्रा उठा। पुलिस आयुक्त ए सतीश गणेश ने बताया कि गोली लगने से घायल बदमाशों को अस्पताल में मृत घोषित किया गया।

उनकी शिनाख्त रजनीश उर्फ बऊआ सिंह निवासी गोलवा जिला समस्तीपुर (बिहार) और उसके सगे भाई मनीष के तौर पर हुई है। तीसरा फरार आरोपी इनका भाई लल्लन है। यह तीनों अत्यंत शातिर हत्यारे एवं लुटेरे हैं। वाराणसी कमिश्नरेट पुलिस ने मारे गए बदमाशों की डिटेल्ड क्रिमिनल हिस्ट्री बिहार पुलिस से मांगी है। जानकारी के अनुसार तीनों हाल ही में पटना जेल से भागे थे और बिहार पुलिस को इनकी सरगर्मी से तलाश थी।

क्राइम ब्रांच कॉस्टेबल को लगी गोली

पुलिस और बदमाशों के बीच आज तड़के मुठभेड़ हो गई। वारणसी के रिंग रोड पर ये एनकाउंटर हुआ है। बताया गया है कि वाराणसी कमिश्नरेट के थाना बड़ागांव क्षेत्र में ये मुठभेड़ हुई। शातिर बदमाशों के मूवमेंट को इंटरसेप्ट करने के लिए वाराणसी कमिश्नरेट की क्राइम ब्रांच और बड़ागांव पुलिस की टीम ने ज्वाइंट ऑपरेशन के तहत घेराबंदी की। अपने को घिरता देख क्राइम ब्रांच और बड़ागांव पुलिस टीम पर बदमाशों ने कई राउंड फायर किए। इस फायरिंग में क्राइम ब्रांच के कॉस्टेबल शिव बाबू को गोली लग गई।

बदमाशों ने किया कई राउंड फायर

वाराणसी कमिश्नरेट के थाना बड़ागांव क्षेत्र में मुठभेड़ हुई तो पूरा इलाका गोलियां चलने से थर्रा उठा। पुलिस के अनुसार शातिर बदमाशों के मूवमेंट को इंटरसेप्ट होने पर वाराणसी कमिश्नरेट की क्राइम ब्रांच और बड़ागांव पुलिस की टीम ने तड़के बदमाशों की घेराबंदी की थी। इस दौरान अपने को घिरता देख क्राइम ब्रांच और बड़ागांव पुलिस टीम पर बदमाशों ने कई राउंड फायर किया।

बिहार पुलिस को इनकी सरगर्मी से तलाश

उनकी शिनाख्त रजनीश उर्फ बऊआ सिंह निवासी गोलवा जिला समस्तीपुर (बिहार) और उसके सगे भाई मनीष के तौर पर हुई है। तीसरा फरार आरोपी इनका भाई लल्लन है। यह तीनों अत्यंत शातिर हत्यारे एवं लुटेरे हैं। वाराणसी कमिश्नरेट पुलिस ने मारे गए बदमाशों की डिटेल्ड क्रिमिनल हिस्ट्री बिहार पुलिस से मांगी है। जानकारी के अनुसार तीनों हाल ही में पटना जेल से भागे थे और बिहार पुलिस को इनकी सरगर्मी से तलाश थी।

पुलिस ने बदमाशों के पास से एक 9 एमएम पिस्टल और एक 32 बोर का पिस्टल, बाइक, मोबाइल फोन और जरूरी कागजात बरामद किए हैं। यह पिस्टल वही है जिसे लक्सा थाने में तैनात दरोगा अजय कुमार पर कुछ दिन पहले ही जानलेवा हमला कर लूटा था। इसके बाद से ही पुलिस को बदमाशों की तलाश थी।

read more : बारिश की वजह से भारत-न्यूजीलैंड पहला टी20 इंटरनेशनल मैच रद

RELATED ARTICLES

1 COMMENT

Comments are closed.

- Advertisment -
Google search engine

Most Popular

Recent Comments