Thursday, July 18, 2024
Homeउत्तर प्रदेशलखनऊ में ठंड ने तोड़ा 10 साल का रिकॉर्ड, आगरा, अयोध्या सहित...

लखनऊ में ठंड ने तोड़ा 10 साल का रिकॉर्ड, आगरा, अयोध्या सहित जानें शहरों का हाल

पश्चिम और पहाड़ों से आ रही बर्फीली हवाओं ने उत्तर प्रदेश में ठिठुरन और गलन बढ़ा दी है। आलम यह है कि लोग हाड़ कंपाती ठंड में घरों में दुबकने को मजबूर हैं। मंगलवार को राजधानी लखनऊ में ठंड ने 10 साल का रिकॉर्ड तोड़ दिया। मंगलवार को लखनऊ का न्यूनतम तापमान 6.6 डिग्री रिकॉर्ड किया गया । जो दिसंबर में 10 सालों में सबसे कम रहा, जबकि अधिकतम तापमान 17.1 डिग्री रिकॉर्ड किया गया।

बूंदाबांदी की वजह से बढ़ी ठंड

मौसम विभाग के मुताबिक अगले 24 घंटे तक ऐसा ही मौसम रहने का अनुमान है। इस बीच रात और सुबह कई जगह पर घना कोहरा भी देखने को मिल सकता है। मौसम विभाग के मुताबिक पश्चिमी विक्षोभ की वजह से हुई बूंदाबांदी की वजह से पारा लुढ़का है। इसके अलावा चिल विंड फैक्टर की वजह से भी तापमान गिरा है। उच्च हिमालयी क्षेत्रों और रेगिस्तानी इलाकों से आ रही हवाओं ने भी तापमान पर असर डाला है।

आगरा में कड़ाके की ठंड, पर अलाव नहीं

पिछले 72 घंटे से ताजनगरी आगरा में कड़ाके की ठंड पड़ रही है। ठंड की वजह से जनजीवन अस्त-व्यस्त हो गया है। 8 किलोमीटर प्रति घंटे की रफ़्तार से चल रही ठंडी हवाएं लोगों को परेशान कर रही हैं। 72 घंटों में न्यूनतम तापमान 6 डिग्री के आसपास पहुंच गया। जबकि अधिकतम तापमान भी 20 डिग्री के आसपास बना हुआ है। नगर निगम ने जरुरतमंदो के लिए पर्याप्त इंतजाम नहीं किए हैं। जरूरतमंद लोग फुटपाथ पर कूड़ा जलाकर ठंड से बचने का जतन कर रहा तो कोई तंदूर की गर्म राख से खुद को बचा रहा है।

गोरखपुर में भी 3 डिग्री लुढ़का पारा

गोरखपुर में भी ठंडी हवाओं की वजह से दिन का पारा तीन डिग्री तक लुढ़क गया। मंगलवार को न्यूनतम तापमान 11.1 डिग्री सेल्सियस रिकॉर्ड किया गया। मौसम विभाग का अनुमान है कि इसमें और भी गिरावट देखने को मिल सकती है। पूर्वानुमान के मुताबिक गोरखपुर और इसके आस-पास में न्यूनतम पारा 7 डिग्री तक पहुंच सकता है।

वाराणसी में काफी तेज चल रही हवाएं

पहाड़ों पर हो रही बर्फबारी का असर दिखने लगा है। मंगलवार सुबह कोहरा तो नहीं रहा लेकिन 10 से 15 किलोमीटर प्रतिघंटे की रफ्तार से बर्फीली हवाओं के चलने के कारण गलन एक बार फिर बढ़ गई। मंगलवार को न्यूनतम तापमान 8.8 डिग्री रिकॉर्ड किया गया।

जाने अयोध्या में ऐसा है मौसम

2022 के अंतिम सप्ताह में राम नगरी अयोध्या में अचानक ठंड बढ़ गई है। राम नगरी में न्यूनतम तापमान साढ़े 4 डिग्री सेल्सियस तक गिर गया। सुबह से चल रही शीतलहरी ने लोगों को ठिठुरने पर मजबूर कर दिया है। जिसके चलते दिन ढलने के बाद बाजारों में चहल-पहल भी कम होती जा रही है।

सुबह सबसे ज्यादा परेशानी स्कूल जाने वाले बच्चों, ऑफिस जाने वाले लोग, मजदूरों व घरेलू कार्य करने वाले महिलाओं को हो रही है। सर्दियों के इस मौसम में पहली बार न्यूनतम तापमान 4 डिग्री सेल्सियस दर्ज किया गया। ठंड के साथ गलन भी बढ़ती जा रही है। जिसके कारण लोग अलाव के पास बैठने के लिए मजबूर हो रहे हैं।

शाहजहांपुर, बरेली और मेरठ में भी ठंड का कहर जारी

शाहजहांपुर, बरेली और मेरठ के आस-पास के जिलों में भी ठंड का कहर लगातार जारी है। पिछले 15 दिनों से कड़ाके की ठंड के बीच लोगों की आंखे खुल रही है। पहाड़ों में बर्फ़बारी और पछुआ हवाओं की बजह से गलन में लगातार इजाफा जारी है। पहाड़ों पर लगातार बर्फबारी से शाहजहांपुर के इलाके में सुबह का तापमान सात डिग्री तक पहुंच रहा है। इसी तरह मेरठ और बरेली में भी ठंड का डबल अटैक देखने को मिल रहा है। यहां भी न्यूनतम तापमान 7 डिग्री के आस-पास बना रहा।

read more : निकाय चुनाव को लेकर हाईकोर्ट का बड़ा फैसला, बिना ओबीसी आरक्षण के कराए चुनाव

RELATED ARTICLES
- Advertisment -
Google search engine

Most Popular

Recent Comments