Thursday, July 18, 2024
Homedelhiयात्रा ने किया यूपी में प्रवेश, क्या पश्चिम से पूर्वांचल को संदेश...

यात्रा ने किया यूपी में प्रवेश, क्या पश्चिम से पूर्वांचल को संदेश दे पाएगी कांग्रेस ?

कांग्रेस नेता राहुल गांधी की भारत जोड़ो यात्रा आज दिल्ली से उत्तर प्रदेश में प्रवेश कर जाएगी। तीन दिन तक ये यात्रा पश्चिमी उत्तर प्रदेश के तीन महत्वपूर्ण जिलों में रहेगी। इस भारत जोड़ो यात्रा को लेकर कांग्रेसी बेहद उत्साहित हैं। यात्रा को लेकर पूरा रूट फाइनल कर दिया गया है।

कांग्रेस की ओर से गत 24 दिसंबर को राहुल गांधी की यात्रा दिल्ली में आने के दौरान सुरक्षा व्यवस्था पर उठाए गए सवालों के चलते आज यात्रा शुरू होने से पहले इसका असर दिख रहा है। यात्रा यमुना बाजार हनुमान मंदिर मरघट वाले बाबा से शुरू होनी है उसके लिए सुरक्षा के बहुत ही जबरदस्त इंतजाम किए गए हैं ताकि सुरक्षा में कोई चूक ना हो सके।

दिल्ली की सीमा से राहुल गांधी यूपी में दाखिल हुए तो उनकी इस यात्रा में उनकी बहन प्रियंका गांधी भी उनके साथ जुड़ीं। इस मौके पर प्रियंका गांधी ने राहुल गांधी के साथ मंच भी साझा किया।

राहुल प्रियंका मंच पर बैठे हैं साथ

मध्यप्रदेश के पूर्व मुख्यमंत्री और कांग्रेस के वरिष्ठ नेता दिग्विजय सिंह भी कार्यक्रम स्थल पर मौजूद हैं। राहुल गांधी अपनी बहन प्रियंका गांधी का हाथ पकड़कर मंच पर बैठे हैं। प्रियंका पहले भी राहुल गांधी के साथ भारत जोड़ो यात्रा में कदमताल कर चुकी हैं। लेकिन यूपी में उनका जुड़ना एक राजनीतिक संदेश है।

भारतीय राजनीति के लिहाज से सबसे महत्वपूर्ण राज्य उत्तर प्रदेश में कांग्रेस की स्थिति काफी खराब है और पार्टी ने प्रियंका गांधी को इस सूबे में कांग्रेस की कमान सौंपी है। प्रियंका लंबे समय से उत्तर प्रदेश में सक्रिय रही हैं।

भाई पर गर्व है – प्रियंका गांधी

यात्रा की शुरुआत से पहले प्रियंका गांधी ने कार्यकर्ताओं को संबोधित करते हुए भारतीय जनता पार्टी पर जमकर निशाना भी साधा। उन्होंने कहा कि राहुल गांधी की इमेज खराब करने के लिए भाजपा ने करोड़ों रुपए खर्च किए। प्रियंका गांधी ने मंच पर खड़े होकर कहा, मेरे बड़े भाई इधर देखो मुझे सबसे ज्यादा गर्व तुम पर है क्योंकि सत्ता का पूरा जोर लगाया गया।

तुम्हारी छवि को खराब करने के लिए सरकार ने करोड़ों रुपए खर्च किए। लेकिन ये सच्चाई से पीछे नहीं हटे। इन पर एजेंसियां लगाईं गईं, ये डरे नहीं। योद्धा हैं… योद्धा हैं… अदानी जी और अंबानी जी ने देश के सारे नेताओं को खरीद लिया। लेकिन मेरे भाई को नहीं खरीद पाए और ना कभी खरीद पाएंगे।

यात्रा के दौरान कड़ाके की ठंड में भी राहुल हाफ टीशर्ट पहनकर चल रहे हैं। इस पर प्रियंका ने कहा कि लोग कहते हैं कि भाई को ठंड से बचाओ। राहुल गांधी शक्ति का कवच पहन कर चल रहे हैं। भगवान उनकी रक्षा कर रहे हैं।

यात्रा में शामिल हुए ए एस दौलत

राहुल गांधी को दिल्ली में भारत जोड़ो यात्रा के दौरान पूर्व प्रधानमंत्री अटल बिहारी वाजपेयी के सहयोगी रहे ए एस दौलत का साथ मिला है। ए एस दौलत आज यात्रा में शामिल हुए और राहुल के हाथ में हाथ डाल चले। ए एस दौलत आईबी के स्पेशल डायरेक्टर और रॉ के सचिव रह चुके हैं। उन्होंने अटल बिहारी वाजपेयी पर ‘कश्मीरः द वाजपेयी ईयर्स’ नाम से किताब भी लिखी है।

कांग्रेस को यात्रा से हैं ये उमीदें

राहुल गांधी की ये भारत जोड़ो यात्रा अपने मकसद में कितना कामयाब होगी ये तो आने वाला वक्त तय करेगा। लेकिन इतना साफ है कि इस यात्रा ने कांग्रेसियों का उत्साह जरूर सांतवे आसमान पर ला दिया है। उन्हें उम्मीद है कि यूपी में अपनी खोई हुई राजनीतिक जमीन हासिल करने में ये यात्रा बहुत बड़ी मददगार साबित हो सकती है।

तीन जिलों 6 विधानसभा को कवर करेंगे राहुल गांधी

राहुल गांधी अपनी इस भारत जोड़ो यात्रा में तीन जिलों की 6 विधानसभा से गुजरेंगे। इसमें गाजियाबाद जिले की लोनी विधानसभा, बागपत जिले की बागपत, बड़ौत और छपरौली विधानसभा शामिल है। जबकि शामली जिले की शामली विधानसभा और कैराना विधानसभा शामिल हैं।

क्या यात्रा के सहारे पूरे यूपी में बड़ा संदेश दे पाएगी कांग्रेस ?

राहुल गांधी कन्या कुमारी से लेकर कश्मीर तक भले ही भारत जोड़ो यात्रा पर निकले हैं। कांग्रेस को लगता है इस भारत जोड़ो यात्रा के सहारे वो पूरे यूपी में बड़ा संदेश दे पाएगी। लेकिन जिस यूपी से दिल्ली का रास्ता तय होता है। उस यूपी के तीन जिलों तक ही इस यात्रा का सिमटना सवाल भी खड़े कर रहा है कि क्या पश्चिमी यूपी की धरती से पूरब तक राहुल गांधी बड़ा संदेश देने में कामयाब हो पाएंगे। इतना ही नहीं क्या वो मिशन 2024 का रास्ता भी आसान कर पाएंगे।

read more : घरेलू मैदान पर पहली बार भारत की कप्तानी करेंगे हार्दिक, जानिए पिच और मौसम का मिजाज़

RELATED ARTICLES
- Advertisment -
Google search engine

Most Popular

Recent Comments