Thursday, July 18, 2024
Homeउत्तर प्रदेशउमेश पाल हत्याकांड में एक और एनकाउंटर, यूपी पुलिस ने किया उस्मान...

उमेश पाल हत्याकांड में एक और एनकाउंटर, यूपी पुलिस ने किया उस्मान चौधरी को ढेर

उमेश पाल की हत्या करने वाले एक शूटर को पुलिस ने एनकाउंटर में मार गिराया है। जिस शख्स को मारा गया है उसका नाम विजय कुमार उर्फ उस्मान चौधरी है। उमेश पाल को सबसे पहले गोली मारने वाला उस्मान ही था। सीसीटीवी में ये शख्स पैदल आता हुआ दिख रहा है। आज उमेश पाल की हत्या का दसवां दिन है।

प्रयागराज पुलिस और एसटीएफ लगातार छापेमारी कर रही है। इस बीच खबर ये है कि उमेश पाल पर सबसे पहले गोली चलाने वाला विजय उर्फ उस्मान चौधरी को एनकाउंटर में मार गिराया गया है।

प्रयागराज पुलिस कमिश्नर रमित शर्मा ने मुठभेड़ की पुष्टि की है। बताया जा रहा है कि उस्मान चौधरी ने ही उमेश पाल और सिपाही को पहली गोली मारी थी। आरोपी विजय उर्फ उस्मान पर 50 हजार का इनामी था। इससे पहले उमेश पाल और दोनों सिपाहियों की हत्या में शामिल अरबाज को पिछले यूपी पुलिस ने एनकाउंटर में मार गिराया गया था।

शूटरों ने जिस क्रेटा गाड़ी से उमेश पाल पर हमला किया था, वह गाड़ी अरबाज ही चला रहा था। चकिया क्षेत्र में हमले में प्रयुक्त क्रेटा कार बरामद होने के बाद इंजन और चेचिस नंबर से पुलिस आरोपी अरबाज तक पहुंच गई।

क्या है पूरा मामला ?

दरअसल, 27 फरवरी को बसपा विधायक राजू पाल हत्याकांड के मुख्य गवाह उमेश पाल को उनके घर के सामने मार दिया गया था। हमलावरों ने उन पर उस वक्त हमला किया जब वो कोर्ट से अपने घर लौट रहे थे। उमेश पाल जैसे ही घर के सामने कार से उतरे तो बदमाशों ने चारो तरफ से घेरकर फायरिंग और बमबाजी कर दी थी। इन बदमाशों ने कई राउंड फायर किए, जिसमें उमेश पाल और उनके सरकारी गनर संदीप निषाद की मौके पर ही मौत हो गई। जबकि एक और गनर राघवेंद्र बुरी तरह घायल हो गए, जिनकी इलाज के दौरान मौत हो गई।

एनकाउंटर में एक सिपाही भी हुआ जख्मी

जानकारी के मुताबिक कि विजय कुमार को ही गैंग में उस्मान चौधरी के नाम से जाना जाता था। शूटआउट के वीडियो में पैदल आ रहा शख्स ही विजय कुमार उर्फ उस्मान चौधरी था। वहीं पुलिस ने उमेश पाल के शूटरों पर इनाम की रकम भी बढ़ा कर 2.5 लाख कर दी है। खबर है कि प्रयागराज के कौंधियारा में शूटर उस्मान का एनकाउंटर हुआ है। उस्मान चौधरी पर 50 हजार का इनाम था। वहीं इस एनकाउंटर में कौंधियारा थाना के सिपाही नरेंद्र भी जख्मी हुए हैं। जिन्हें सीएससी में भर्ती कराया गया है।

एसटीएफ और यूपी पुलिस की टीम कर रही छापेमारी

वहीं इस हत्याकांड के बाकी आरोपियों की धरपकड़ के लिए प्रयागराज पुलिस से लेकर एसटीएफ तक ताबड़तोड़ छापेमारी कर रही है। इस बीच यूपी पुलिस ने अतीक अहमद के बेटे और शूटआउट के आरोपी असद अहमद, गुड्डू मुस्लिम, अरमान, मोहम्मद गुलाम और साबिर पर भी ढाई-ढाई लाख रुपये का इनाम घोषित कर दिया है। पहले ये इनाम पचास हज़ार का था लेकिन अब इसे ढाई लाख कर दिया है। प्रयागराज पुलिस जहां यूपी में कई ठिकानों पर छापेमारी कर रही है तो एसटीएफ पांच राज्यों के पचास ठिकानों पर छापेमारी कर चुकी है।

सदन में भी गूंजा था मामला

प्रयागराज में दिन दहाड़े हुई इस गोलीबारी पर जमकर सियासत भी देखने को मिली थी। जब सदन में नेता विपक्ष अखिलेश यादव ने इस मुद्दे को उठाया तो सीएम योगी आदित्यनाथ ने कहा था कि वो जिन्होंने इस हत्याकांड को अंजाम दिया है। उन पर कड़ी कार्रवाई की जाएगी और जल्द ही इसका असर देखने को मिलेगा। इस मामले में अतीक अहमद का नाम सामने आया है। जिसके बाद सीएम योगी ने माफियाओं को मिट्टी में मिलाने की बात कही थी।

read more : भाजपा विधायक के बेटे के घर लोकायुक्त की छापेमारी, मिला नकदी का पहाड़

RELATED ARTICLES
- Advertisment -
Google search engine

Most Popular

Recent Comments