तवांग की घटना पर सेना का पहला रिएक्शन , जाने कि पूर्वी कमान के प्रमुख ने क्या कहा

तवांग की घटना पर सेना का पहला रिएक्शन , तवांग में हालात नियंत्रण में
तवांग की घटना पर सेना का पहला रिएक्शन , तवांग में हालात नियंत्रण में

तवांग में चीनी सेना (पीएलए) के साथ हुई झड़प पर पहली बार सेना की ओर से कोई प्रतिक्रिया सामने आई है। सेना की पूर्वी कमान के प्रमुख लेफ्टिनेंट जनरल आरपी कलिता ने कहा कि तवांग में हालात नियंत्रण में है। उन्होंने बताया कि चीनी सैनिकों ने वास्तविक नियंत्रण रेखा को पार किया। भारतीय सेना ने चीनी सेना की इस हरकत का विरोध किया। इस विरोध के दौरान झड़प हुई और दोनों तरफ के सैनिकों को चोटें आईं है।

बता दें कि 9 दिसंबर को तवांग के यांग्त्से क्षेत्र में चीनी सैनिकों की ओर से एलएसी पर अतिक्रमण कर यथास्थिति को एकतरफा बदलने की कोशिश की गई। इस बीच भारतीय सेना ने चीनी सैनिकों का डटकर मुकाबला किया और उन्हें अपनी पोस्ट पर जाने के लिए मजबूर कर दिया। दोनों सेनाओं के बीच हुई झड़प में दोनों देशों के सैनिक घायल हुए हैं। रक्षा मंत्री राजनाथ सिंह ने सदन को यह बताया था कि झड़प में किसी सैनिक को गंभीर चोट नहीं आई है। कुछ सैनिक मामूली रूप से घायल हुए हैं जिनका इलाज चल रहा है।

सेना हर हालात से निपटने के लिए तैयार- ले. जन. कलिता

लेफ्टिनेंट जनरल कलिता ने कहा कि स्थानीय स्तर पर बुमला में दोनों सेनाओं की फ्लैग मीटिंग हुई और हालात को कंट्रोल में किया गया। फिलहाल तवांग में हालात नियंत्रण में है। उन्होंने कहा कि भारतीय सेना हमेशा अपने देश की रक्षा के लिए तैयार है। उन्होंने कहा कि शांति हो या संघर्ष, प्राथमिक कार्य बाहरी या आंतरिक खतरे के खिलाफ देश की क्षेत्रीय अखंडता को सुनिश्चित करना है।उन्होंने कहा कि सेना हर हालात से निपटने के लिए पूरी तरह से तैयार हैं।

read more : डिंपल के अच्छे प्रदर्शन के बाद एक हुए चाचा और भतीजा, प्रसपा का सपा में हुआ विलय

1 COMMENT

Comments are closed.