पहलवानों का धरना हुआ खत्म, जांच पूरी होने तक पद पर नहीं रहेंगे बृजभूषण

पहलवानों का धरना हुआ खत्म, जांच पूरी होने तक पद पर नहीं रहेंगे बृजभूषण
पहलवानों का धरना हुआ खत्म, जांच पूरी होने तक पद पर नहीं रहेंगे बृजभूषण

भारतीय कुश्ती संघ (डब्ल्यूएफआई) के अध्यक्ष बृजभूषण शरण सिंह के खिलाफ धरने पर बैठे पहलवानों ने केंद्रीय खेल मंत्री अनुराग ठाकुर से बातचीत के बाद अपना विरोध प्रदर्शन खत्म कर दिया। सरकार ने पूरे मामले की जांच के लिए एक निरीक्षण समिति बनाने का एलान किया है। इस समिति को चार हफ्ते में जांच पूरी कर रिपोर्ट सौंपनी होगी।

इस रिपोर्ट के आधार पर सरकार अंतिम फैसला लेगी। कुश्ती महासंघ और पहलवानों में जारी गतिरोध के बीच में भारतीय ओलंपिक संघ (IOA) ने बड़ा फैसला लिया है। भारतीय ओलंपिक संघ ने कुश्ती महासंघ के प्रमुख बृजभूषण शरण सिंह के खिलाफ यौन उत्पीड़न के आरोपों की जांच के लिए 7 सदस्यीय कमेटी गठित की है।

इस कमेटी के सदस्यों में मैरी कॉम, डोला बनर्जी, अलकनंदा अशोक, योगेश्वर दत्त, सहदेव यादव और 2 अधिवक्ताओं के नाम शामिल हैं। यह भी फैसला किया गया है कि जांच होने तक बृजभूषण फेडरेशन के कामों से अलग रहेंगे और सारे काम कमेटी देखेगी।

केंद्रीय खेल मंत्री अनुराग ठाकुर हुई पहलवानो की बैठक

केंद्रीय खेल मंत्री अनुराग ठाकुर ने प्रदर्शन कर रहे पहलवानों के साथ बैठक की। बैठक के बाद केंद्रीय खेल मंत्री अनुराग ठाकुर ने कहा कि बैठक के दौरान खिलाड़ियों ने अपनी मांगें रखीं और हमने इस पर चर्चा की। हमने रेसलिंग फेडरेशन ऑफ इंडिया (डब्ल्यू एफ आई) को नोटिस जारी किया था। जब आरोप लगाए गए थे और उन्हें 72 घंटे के भीतर जवाब देने के लिए कहा था।

जांच पूरी होने तक पद से हटेंगे बृजभूषण

केंद्रीय खेल मंत्री ने कहा कि यह निर्णय लिया गया है कि एक निरीक्षण समिति का गठन किया जाएगा और उसके लिए नामों की घोषणा शनिवार को की जाएगी। समिति चार सप्ताह में अपनी जांच पूरी करेगी और डब्ल्यूएफआई और उसके प्रमुख के खिलाफ लगाए गए सभी आरोपों की गहन जांच करेगी। अनुराग ठाकुर ने कहा कि कुश्ती महासंघ के प्रमुख बृजभूषण सिंह निरीक्षण समिति द्वारा जांच पूरी होने तक चार सप्ताह के लिए भारतीय कुश्ती संघ से अलग हो जाएंगे और वह जांच में शामिल होंगे। जांच पूरी होने तक डब्ल्यूएफआई की दिन-प्रतिदिन की गतिविधियों पर एक समिति नजर रखेगी। निगरानी समिति उनके खिलाफ लगे यौन उत्पीड़न के आरोपों की जांच करेगी।

आम बैठक में बोलेंगे बृजभूषण – प्रतीक भूषण सिंह

उधर, शुक्रवार को बृजभूषण के बेटे प्रतीक भूषण सिंह का बयान आया है। प्रतीक ने कहा कि हम औपचारिक रूप से इस मुद्दे पर कुछ भी बोलने के लिए अधिकृत नहीं हैं। वे (बृज भूषण शरण सिंह) ​भारतीय कुश्ती महासंघ की वार्षिक आम बैठक में 22 जनवरी को मीडिया को संबोधित करेंगे। ये बैठक अयोध्या में आयोजित होने जा रही है। हमने खेल मंत्रालय को अपना आधिकारिक बयान दे दिया है।

किसी की दया पर नहीं, चुना हुआ अध्यक्ष हूं – बृजभूषण

भारतीय कुश्ती संघ के अध्यक्ष और कैसरगंज से सांसद बृजभूषण शरण सिंह ने आरोपों को मनगढ़ंत बताया। यौन शोषण के आरोपों पर कहा, सब झूठ बोल रहे हैं और लोग जान भी रहे हैं। मैंने मुंह खोला तो सुनामी आ जाएगी। इस्तीफे पर कहा कि मुझे इस्तीफा देने के लिए नहीं कहा गया है। 24 घंटे में जवाब देने को कहा गया है। जवाब भेज दूंगा। उन्होंने कहा कि मैं किसी की दया पर यहां नहीं बैठा हूं। मैं चुना हुआ अध्यक्ष हूं।

पूनिया ने विरोध वापस लेने का किया एलान

पहलवान बजरंग पुनिया ने कहा कि केंद्रीय खेल मंत्री ने हमारी मांगों को सुना और उचित जांच का आश्वासन दिया। मैं उन्हें धन्यवाद देता हूं और हमें उम्मीद है कि निष्पक्ष जांच होगी और सच सामने आएगा, इसलिए हम विरोध वापस ले रहे हैं।

ये हमारे आत्म सम्मान की लड़ाई है – विनेश फोगाट

इससे पहले शुक्रवार शाम को मंतर पर धरना दे रहे पहलवानों ने अपनी बात एक बार फिर मीडिया के समक्ष रखी। जंतर मंतर पर धरना दे रही विनेश फोगाट ने कहा कि अपनी मांगों पर अड़े हैं। पहलवान विनेश फोगट ने कहा है कि ये आत्म सम्मान की लड़ाई है। विनेश ने कहा कि सभी पहलवान हमारे साथ हैं। हमारे पास बृजभूषण के खिलाफ सबूत हैं। हिंदुस्तान के पहलवान डरेंगे नहीं। हमारी लगातार मांग हैं कि बृजभूषण को सामने बिठाओ, आमने सामने की बैठक में वे अपनी बात रखें।

तीन दिन से जंतर मंतर पर बैठे थे पहलवान

कुश्ती महासंघ की अनियमितताओं के खिलाफ पहलवान तीन दिन से जंतर मंतर पर बैठे थे। इसी बीच देर रात खेलमंत्री अनुराग ठाकुर ने पहलवानों को चर्चा के लिए डिनर पर आमंत्रित किया था। देर रात तक चर्चा हुई जिसके बाद तय हुआ कि जांच होने तक बृजभूषण शरण सिंह फेडरेशन के काम से अलग रहेंगे। इसके साथ ही पहलवानों ने अपना धरना खत्म कर दिया।

read more : महिला ने कार से युवक को मारी टक्कर, कार के बोनट पर 1 किमी. तक घसीटा

1 COMMENT

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here