Wednesday, June 19, 2024
Homeविदेशमोंटाना के बाद अब लैटिन अमेरिका में दिखा चीनी गुब्बारा, चीन कर...

मोंटाना के बाद अब लैटिन अमेरिका में दिखा चीनी गुब्बारा, चीन कर रहा अमेरिका की जासूसी ?

अमेरिका में एक बार फिर से चीन ने जासूसी करने की हिमाकत की है, जिसका बड़ा सबूत सामने आया है। अमेरिका के आसमान में चीनी स्पाई बैलून उड़ता दिखा है, जिसके बाद से अमेरिकी प्रशासन पूरी तरह से अलर्ट हो गया है और उसने चीनी राजनयिक को समन जारी किया है। पेंटागन ने कहा कि एक संदिग्ध चीनी जासूसी गुब्बारा कुछ दिनों से संयुक्त राज्य अमेरिका के आसमान में उड़ रहा है और सीनियर अमेरिकी अधिकारियों ने राष्ट्रपति जो बाइडेन को इसे शूट नहीं करने की सलाह दी है। क्योंकि ऐसा करने से इसके मलबे से लोगों की सुरक्षा खतरे में पड़ सकती है।

चीनी गुब्बारे को लेकर अमेरिका और चीन के बीच बढ़े तनाव के बाद एक और बड़ी जानकारी सामने आई है। पेंटागन ने कहा है कि मोंटाना के बाद अब लैटिन अमेरिका के आसमान में एक दूसरा चीनी जासूसी गुब्बारा देखा गया है। पेंटागन के प्रेस सचिव ब्रिगेडियर जनरल पैट्रिक राइडर ने एक बयान में कहा, हम एक और गुब्बारे के लैटिन अमेरिका से गुजरते हुए देख रहे हैं। अब हम आकलन कर रहे हैं कि क्या यह एक और जासूसी करने वाला चीन का गुब्बारा है।

चीनी गुब्बारों पर अमेरिका रख रहा है पैनी नजर

वहीं, गुब्बारे को लेकर अमेरिकी अधिकारियों ने कहा कि हम लगातार जासूसी गुब्बारे पर नज़र रख रहे हैं। हो सकता है कि अगले कुछ दिनों तक इस गुब्बारे के अमेरिकी हवाई क्षेत्र में बने रहने की उम्मीद है। पेंटागन के प्रवक्ता ब्रिगेडियर जनरल पैट राइडर ने कहा कि फिलहाल हम इन गुब्बारों को ट्रैक करना जारी रखेंगे। संभवत: कुछ दिनों के लिए ये गुब्बारे संयुक्त राज्य अमेरिका के आसमान में उड़ते रहेंगे लेकिन हम इसकी पूरी निगरानी रख रहे हैं और समय-समय पर इसका अपडेट दिया जाएगा।

अमेरिका में गुब्बारा दिखने के बाद बढ़ा तनाव

अमेरिकी आसमान में चीनी गुब्बारा दिखने के बाद अमेरिकी विदेश मंत्री एंटनी ब्लिंकन ने प्रतिक्रिया स्वरूप अपनी बीजिंग यात्रा स्थगित कर दी। उन्होंने यह फैसला चीन के इस दावे के बावजूद लिया कि गुब्बारा एक मौसम अनुसंधान उपग्रह है। जो दिशा भटक गया है और उसका (बीजिंग का) ‘किसी भी संप्रभु देश के क्षेत्राधिकार तथा वायु क्षेत्र का उल्लंघन करने का कोई इरादा नहीं है। इस बैलून कांड के बाद दोनों देशों के बीच तनाव बढ़ गया है।

गुब्बारा अमेरिका के उत्तर-पश्चिम में कर रहा निगरानी

गुब्बारा अमेरिका के उत्तर-पश्चिम क्षेत्र में उड़ रहा है, जहां संवेदनशील एयरबेस और रणनीतिक मिसाइलें हैं। एएफपी ने एक अज्ञात अधिकारी के हवाले से बताया कि स्पष्ट रूप से इस चीनी स्पाई गुब्बारे का इरादा निगरानी करना है और यह कई संवेदनशील साइटों के ऊपर उड़ान भर रहा है। फिलहाल, अभी यह चीनी गुब्बारा नॉर्दर्न मोंटाना के आसमान में उड़ रहा है और इसके पीछे अमेरिकी एयरफोर्स के विमान भी लग चुके हैं।

बताया जा रहा है कि अत्यधिक संवेदनशील परमाणु हथियार स्थलों की निगरानी करते प्रतीत होने वाले चीनी जासूसी गुब्बारों का पता लगाने के बाद अमेरिकी विदेश विभाग ने वाशिंगटन में चीन के प्रभारी राजनयिक को एक बहुत स्पष्ट और कठोर संदेश देने के लिए तलब किया है। इस बीच पेंटागन ने अपने बयान में कहा है कि चीनी गुब्बारा वर्तमान में वाणिज्यिक हवाई यातायात से काफी ऊंचाई पर यात्रा कर रहा है और जमीन पर लोगों के लिए सैन्य या शारीरिक खतरा पेश नहीं करता है।

चीनी गुब्बारा दिखने के बाद अमेरिका की चिंता

ब्लिंकन ने कहा कि उनका पहला काम यह सुनिश्चित करना है कि चीनी गुब्बारे को जल्द से जल्द अमेरिकी हवाई क्षेत्र से बाहर किया जाए। इस बीच, पेंटागन ने कहा कि बड़ी संख्या में पेलोड से लैस तीन बसों जितना बड़ा चीनी गुब्बारा संभवत: अगले कुछ दिनों तक अमेरिकी आसमान में रहेगा और इसमें व्यापक निगरानी करने की क्षमता है, ये हमारी चिंता का विषय है। ब्लिंकन ने ये भी कहा, ‘मेरा हमेशा से मानना रहा है कि संवाद के माध्यम खुले रखना जरूरी है। वास्तव में, यह घटना इसकी महत्ता को दर्शाती है और इसलिए हम इसे बरकरार रखेंगे।

विदेश मंत्री ब्लिंकन ने स्थगित की बीजिंग यात्रा

अमेरिकी हवाई क्षेत्र में चीनी जासूसी गुब्बारा दिखाई देने की वजह विदेश मंत्री एंटनी ब्लिंकन ने अपनी बीजिंग यात्रा को स्थगित कर दिया। ब्लिंकन ने कहा कि अमेरिकी हवाई क्षेत्र में चीनी जासूसी गुब्बारे की जानकारी सामने आने के बाद मैं चीन की अपनी यात्रा स्थगित कर रहा हूं। ब्लिंकन पांच और छह फरवरी को दो दिवसीय यात्रा पर चीन जाने वाले थे।

इस दौरान वह चीनी अधिकारियों के साथ रूस और यूक्रेन के बीच चल रहे युद्ध पर भी चर्चा करते। लेकिन जासूसी गुब्बारे की खबर सामने आने के बाद उन्होंने अपनी यात्रा स्थगित कर दी। ब्लिंकन ने कहा कि अमेरिका और चीन गुब्बारा समेत कई मुद्दे को लेकर बातचीत करना जारी रखेंगे।

राष्ट्रपति जो बाइडन को दी गई जानकारी

व्हाइट हाउस की तरफ से राष्ट्रपति जो बाइडन को चीनी गुब्बारों की जानकारी दी गई और बताया गया कि चीन अमेरिका के हवाई क्षेत्र का उल्लंघन कर रहा है और अमेरिका इस स्थिति पर पैनी नजर बनाए हुए हैं। व्हाइट हाउस ने राष्ट्रपति बाइडन को यह भी बताया कि उन्होंने जनता की सुरक्षा को देखते हुए चीनी जासूसी गुब्बारे को नष्ट नहीं करने का निर्णय लिया है।

read more : महंगाई को लेकर आम जनता को लगा एक और झटका, अमूल दूध ने की दाम में बढ़ोतरी

RELATED ARTICLES
- Advertisment -
Google search engine

Most Popular

Recent Comments