Thursday, July 18, 2024
Homeक्राइमछेड़छाड़ के आरोपों में घिरे खेल मंत्री संदीप सिंह का इस्तीफा ,...

छेड़छाड़ के आरोपों में घिरे खेल मंत्री संदीप सिंह का इस्तीफा , एफआईआर दर्ज

एक महिला कोच ने हरियाणा के खेल मंत्री संदीप सिंह के खिलाफ यौन उत्पीड़न के लिए शिकायत दर्ज कराने के एक दिन बाद चंडीगढ़ पुलिस ने उनके खिलाफ एफआईआर दर्ज कर ली है। संदीप सिंह पर महिला कोच ने पीछा करने, अवैध रूप से बंधक बनाने, यौन उत्पीड़न और आपराधिक धमकी देने का आरोप लगाया था। जिसके बाद उनके ऊपर एफआईआर दर्ज की गई।

ओलंपियन और भारतीय हॉकी टीम के पूर्व कप्तान संदीप सिंह के खिलाफ सेक्टर 26 पुलिस स्टेशन में प्राथमिकी दर्ज की गई। इसके बाद संदीप ने फैसला किया है कि वो जब तक जांच पूरी नहीं होती तब तक अपने खेल विभाग का कामकाज नहीं देखेंगे और खेल विभाग मुख्यमंत्री को सौंप दिया है। ताकि निष्पक्ष जांच पूरे मामले में हो सके।

महिला कोच ने लगाया मंत्री संदीप सिंह पर छेड़खानी का आरोप

महिला कोच ने मंत्री संदीप सिंह पर छेड़छाड़ का आरोप लगाया था। प्रेसवार्ता कर महिला कोच ने मामले की जानकारी मीडिया तो दी थी। वहीं हरियाणा के विपक्षी दल मंत्री को पद से हटाने की मांग कर रहे थे। मंत्री की शिकायत पर हरियाणा सरकार एसआईटी का गठन कर चुकी है। हरियाणा में मामले की जांच एसआईटी करेगी। वहीं अब चंडीगढ़ पुलिस ने एफआईआर दर्जकर मंत्री की मुश्किलें बढ़ा दी है। चंडीगढ़ के सेक्टर-26 पुलिस स्टेशन में आईपीसी की धारा-354, 354A, 354B, 342, 506 के तहत केस दर्ज किया गया है। पुलिस को दी शिकायत में महिला कोच ने छेड़छाड़ की वारदात की तिथि एक जुलाई 2022 बताई है। उसने मंत्री की कोठी के बाहर से लेकर सुखना लेक तक लगे सीसीटीवी कैमरों की भी जांच कराने की मांग की है।

‘डॉक्यूमेंट के बहाने घर बुलाया’

महिला कोच के मुताबिक, “उन्होंने मुझ से स्नैपचैट पर बात करने को कहा। फिर मुझे चंडीगढ़ सेक्टर 7 लेक साइड पर मिलने को कहा। मैं नहीं गई, तो वो मुझे इंस्टाग्राम पर ब्लॉक और अनब्लॉक करते रहे। फिर मुझे एक डॉक्यूमेंट के बहाने घर बुलाया। वहां वह मुझे अलग केबिन में लेकर गए और मेरे साथ बदतमीजी की। मेरे पैर पर हाथ रखा और मुझसे कहा कि तुम मुझे खुश रखो, मैं तुम्हे खुश रखूंगा। मैं किसी तरह खुद को बचा कर भागी। स्टाफ मेरी हालत देखकर हंसता रहा। मैंने डीजीपी से लेकर सीएम ऑफिस में कॉल किया। लेकिन कोई मदद नहीं मिली।”

मंत्री संदीप सिंह के मोबाइल की फॉरेंसिक जांच की मांग

आरोप लगाया कि खेल मंत्री लगातार उसे स्नैप चैट और इंस्टाग्राम पर मैसेज करते रहे। मंत्री के चैट मैसेज नहीं होने के सवाल पर महिला कोच ने कहा कि उसके पास इसके पुख्ता सबूत हैं और वह पुलिस की जांच में इसको सामने रखेगी। महिला कोच ने मांग की है कि मंत्री और उसके मोबाइल की फॉरेंसिक जांच कराकर डिलीट मैसेज रिकवर किए जाएं, इससे पूरी सच्चाई सामने आ जाएगी। महिला कोच का कहना है कि वह इस संबंध में प्रदेश के मुख्यमंत्री मनोहर लाल और पूर्व मुख्यमंत्री भूपेंद्र सिंह हुड्डा से भी मुलाकात करेगी। अगर उसे न्याय नहीं मिला तो वह धरने पर बैठेगी।

आयोग ने मेरी सुनवाई नहीं की – महिला कोच

पीड़ित महिला कोच ने अमर उजाला से बातचीत में बताया है कि वह महिला आयोग से कई बार गुहार लगा चुकी है। आयोग ने मेरी बात पर सुनवाई नहीं की, जबकि मंत्री को क्लीनचिट दी जा रही है। वैसे भी यह मामला चंडीगढ़ का है। इस मामले में मैंने चंडीगढ़ पुलिस को शिकायत दी है। हरियाणा पुलिस की कमेटी का इस मामले में हस्तक्षेप का क्या मतलब।

आरोपों से किया इनकार

संदीप सिंह ने हालांकि आरोपों से इनकार किया है। उन्होंने कहा है कि ये उनकी छवि को खराब करने की कोशिश है। उन्होंने कहा, “मेरी छवि को खराब करने की कोशिश है। मुझे उम्मीद है कि मेरे खिलाफ जो गलत आरोप लगे हैं। उनकी अच्छे से जांच होगी। मैंने जांच पूरी न होने तक खेल विभाग की जिम्मेदारी मुख्यमंत्री को दे दी है।

read more : नए साल की शुरुआत महंगाई के साथ , बढे कमर्शियल गैस सिलेंडर के दाम

RELATED ARTICLES
- Advertisment -
Google search engine

Most Popular

Recent Comments