Thursday, July 18, 2024
Homedelhiन्यायिक हिरासत में आफ़ताब अमीन पूनावाला , वीडियो कॉन्फ्रेंसिंग से हुई थी...

न्यायिक हिरासत में आफ़ताब अमीन पूनावाला , वीडियो कॉन्फ्रेंसिंग से हुई थी कोर्ट में पेशी

श्रद्धा आफताब मामले को सामने आए करीब महीना हो गया है और इस मामले में लगातार हो रहे नए खुलासों पर पूरे देश की निगाहें टिकी हुई है। इस मामले में शुक्रवार को आरोपित आफताब अमीन पूनावाला की साकेत कोर्ट में पेशी हुई है। अपनी लिव-इन पार्टनर श्रद्धा वाकर की हत्या का आरोपी आफ़ताब अमीन पूनावाला इस समय तिहाड़ जेल में बंद है। साकेत कोर्ट ने आफताब की न्यायिक हिरासत को बढ़ाने का फैसला किया है।

इस नए आदेश के मुताबिक आफताब अब आने वाले 14 दिनों तक न्यायिक हिरासत में रहेगा। यह पेशी वीडियो कॉन्फ्रेंसिंग के माध्यम हुई। श्रद्धा हत्याकांड के आरोपी आफताब अमीन पूनावाला (28) ने महरौली पुलिस को खुली चुनौती दे रखी है कि श्रद्धा को मैंने मारा है। दम है तो शरीर के टुकड़े व औजार बरामद करके दिखाओ। वह इस चुनौती को बार-बार दोहरा रहा है। आरोपी की इस चुनौती को लेकर दक्षिण जिला पुलिस अधिकारी भी सकते में हैं।

पुलिस को उसके आत्मविश्वास को देखकर ताज्जुब हो रहा है।दिल्ली पुलिस के एक वरिष्ठ अधिकारी ने नाम न छापने की शर्त बताया कि जब महरौली पुलिस ने आरोपी को पकड़ा था तो आफताब ने कहा था कि मैंने श्रद्धा की हत्या की है। दम है तो शरीर के टुकड़े बरामद करके दिखाओ। वह इस चुनौती को अब लगातार दोहरा रहा है। पुलिस श्रद्धा के सिर व धड़ को अभी तक बरामद नहीं कर पाई है।

केस में जल्द आ सकता है नया मोड़

केस के जांचकर्ता के अनुसार श्रद्धा मर्डर केस में नया मोड़ आ सकता है। जांचकर्ता ने बताया कि आफताब काफी चालाक है, वह केस को लेकर आने वाले समय में नया खुलासा कर सकता है। बता दें कि आफताब का नार्को टेस्ट और पालीग्राफ टेस्ट हो चुका है।

श्रद्धा बनकर दोस्त से करता रहा चैटिंग

आफताब श्रद्धा के मोबाइल को करीब एक महीने तक इस्तेमाल करता रहा। हालांकि, उसने कॉल नहीं की, बल्कि व्हाट्सएप चैटिंग की थी। एक बार श्रद्धा के दोस्त लक्ष्मण ने मोबाइल पर व्हाट्सएप मैसेज डाला था, तब आरोपी ने श्रद्धा बनकर लक्ष्मण को कहा था कि वह अभी बिजी है, बात में बात करेगी। बाद में उसने लक्ष्मण को मैसेज किया कि श्रद्धा उसे छोड़कर चली गई।

छतरपुर के जंगल से मिले शव के टुकड़े, मोबाइल व सिम नहीं मिला

छतरपुर के जंगल से बरामद जबड़ा व 100 फुटा रोड से बरामद शरीर के टुकड़े से पता लग है कि वह किसी महिला के टुकड़े हैं। पुलिस शरीर के टुकड़े बरामद करने के लिए इस्तेमाल किए गए औजार अभी तक बरामद नहीं कर पाई है। हालांकि, पुलिस ने रसोई से पांच चाकू बरामद किए हैं। इनसे आरोपी ने श्रद्धा के शरीर के टुकड़े करने में इस्तेमाल किया था।उसने मुंबई लेकर जाकर श्रद्धा के मोबाइल व सिम को समुद्र में फेंक दिया था। उस समय वह मुंबई के किराए के घर से सामान को शिफ्ट करने गया था। पुलिस को अभी श्रद्धा का मोबाइल व सिम नहीं मिला है।

मामला सुलझाने में वक्त लग रहा वक़्त

आफताब अमीन पूनावाला ही इस केस का मुख्य आरोपित है। इस केस को लेकर पुलिस के हाथों कोई ठोस सबूत नहीं लगे हैं। इस कारण पुलिस की सारी कार्रवाई आफताब द्वारा दिए गए बयानों के ईर्द गिर्द ही घूम रही हैं। पुलिस ने आफताब के फ्लैट के आसपास के सीसीटीवी फुटेज खंगालने की भी कोशिश की है, लेकिन 6 महीने पहले अंजाम दी गई। इस वारदात को लेकर पुराने फुटेज किसी के पास सहेज कर नहीं रखे गए है। यही वजह है कि पुलिस को यह मामला सुलझाने में वक्त लग रहा है।

आफताब की सुरक्षा का रखा जा रहा ख्याल

10 दिनों पहले ही आरोपित आफताब को ले जा रही वैन पर हमला हो गया था। इस हमले के बाद पुलिस विभाग में हलचल मच गई थी। दिल्ली पुलिस के मुताबिक इस केस की गुत्थी सुलझाने के लिए आरोपित आफताब की सुरक्षा का ख्याल रखना जरूरी है। बीते दिनों वैन पर हुए हमले के बाद पुलिस आफताब को सुरक्षा पर विशेष ध्यान दे रही है।

read more : डिंपल के अच्छे प्रदर्शन के बाद एक हुए चाचा और भतीजा, प्रसपा का सपा में हुआ विलय

RELATED ARTICLES
- Advertisment -
Google search engine

Most Popular

Recent Comments