Thursday, July 18, 2024
Homeदेशटी-शर्ट छोड़ जैकेट में आए राहुल गांधी, बारिश के बीच लोगों में...

टी-शर्ट छोड़ जैकेट में आए राहुल गांधी, बारिश के बीच लोगों में भारत जोड़ो यात्रा का उत्साह

राहुल गांधी की भारत जोड़ो यात्रा अपने आखिरी पड़ाव जम्मू कश्मीर पहुंच गई है। कल शाम यात्रा मशाल जुलूस के साथ जम्मू कश्मीर के लखनपुर में दाखिल हो गई। पंजाब-जम्मू कश्मीर बॉर्डर पर फ्लैग एक्सचेंज सेरेमनी हुई। इस दौरान राहुल गांधी ने कहा कि उनके पूर्वज इसी धरती से थे। उन्हें लग रहा है कि वो घर लौट रहे हैं। वहीं इस बीच आज शुक्रवार को जब भारत जोड़ो यात्रा जम्मू कश्मीर के कठुआ पहंची तो राहुल गांधी केवल टी-शर्ट में नजर नहीं आए, बल्कि जैकेट पहने हुए दिखे। अपनी पूरी यात्रा के दौरान राहुल गांधी ने कड़ाके की ठंड में भी केवल टी-शर्ट पहनने को लेकर खासी सुर्खियां बटोरी हैं। लेकिन कठुआ आते ही राहुल ने अपने इस लुक को त्याग दिया।

लखनपुर पहुचने तक टी-शर्ट में ही थे राहुल गांधी

जम्मू-कश्मीर में एंटर करने पर राहुल गांधी की यात्रा का जोरदार स्वागत हुआ। बड़ी संख्या में समर्थक मशाल लेकर राहुल की यात्रा में शामिल हुए। राहुल की यात्रा पठानकोट के रास्ते लखनपुर पहुंची तो पारा करीब आठ डिग्री के आसपास था। लेकिन इस कड़ाके की ठंड में भी राहुल अपने वही ट्रेडमार्क टीशर्ट और ट्राउजर में दिखे थे। जम्मू-कश्मीर में यात्रा पहुंचते ही राहुल के मंच पर फारुक अब्दुल्ला पहुंचे और राहुल का स्वागत किया।

जम्मू-कश्मीर में माइक थामते ही राहुल ने कहा कि वो अपने पूर्वजों की धरती पर आ गए हैं। उन्होंने कहा कि उन्हें ऐसा लग रहा है जैसे उनकी घर वापसी हुई है। बता दें कि आज राहुल की भारत जोड़ो यात्रा का 125वां दिन है और 30 जनवरी को श्रीनगर के लाल चौक पर ये खत्म होगी।

कश्मीर में राहुल गाँधी को मिला विपक्षीय पार्टियों का समर्थन

कांग्रेस नेता राहुल गांधी के नेतृत्व में कन्याकुमारी से शुरू हुई भारत जोड़ो यात्रा कल शाम जम्मू कश्मीर पहुंची थी। पंजाब को जम्मू कश्मीर से जोड़ने वाले रावि पुल को पार कर यात्रा प्रदेश की धरती पर पहुंची। नेकां नेता फारुक अब्दुल्ला, शिवसेना नेता संजय राउत, जम्मू कश्मीर कांग्रेस प्रभारी रजनी पाटिल, प्रदेश कांग्रेस अध्यक्ष विकार रसूल वानी ने यात्रा का अभिनंदन किया। वहीं पीडीपी मुखिया महबूबा मुफ्ती ने भी राहुल गांधी की भारत जोड़ो यात्रा को अपना समर्थन दे दिया है।

आपके दिल का दर्द जो दुख है, उसे बांटने आया हूं – राहुल गाँधी

इस यात्रा के दौरान राहुल गांधी ने कहा कि वह कहना चाहते हैं कि आप किसी भी धर्म जात के हो, बच्चे या बुजुर्ग हो आप इस देश के हैं। उन्होंने कहा, मैं नफरत के बाजार में मोहब्बत की दुकान खोलने आया हूं। मेरे दिल में आपके लिए मोहब्बत है। अगले नौ दस दिन आपके दिल का दर्द जो दुख है, उसे बांटने आया हूं।

भारत जोड़ो यात्रा को संबोधित करते हुए राहुल गांधी ने कहा कि हिंदोस्तान के सामने नफरत, हिंसा, बेरोजगारी और महंगाई सबसे बड़े मुद्दे हैं। सरकार ने इस देश को रोजगार देने वाले छोटे मध्यम व्यवसायियों को खत्म कर दिया। नतीजा यह हुआ है कन्याकुमारी से कश्मीर तक युवाओं के मुंह में एक शब्द है बेरोजगारी, बेरोजगार, बरोजगारी।

राहुल गांधी का आरोप अधिकारों पर हो रहा हमला

राहुल गांधी ने आरोप लगाया कि यह भाजपा और आरएसएस की पॉलिसी का नतीजा है। भारत के गरीब लोगों और युवाओं के अधिकारों पर हमला हो रहा है। किसानों पर आक्रमण हो रहा है। पूरा फायदा, दो तीन अरबपतियों को दिया जा रहा है। कहा कि दो हिंदोस्तान बनाए जा रहे हैं। एक अरबपतियों और दूसरा छोटे व्यापारियों, किसानों, मजदूरों का हिंदोस्तान बनाया जा रहा है।

जम्मू-कश्मीर में विधानसभा चुनाव लड़ेगी शिवसेना – संजय राउत

संजय राउत ने यात्रा में शामिल होने से पहले पत्रकारों से बात करते हुए यह साफ किया कि देश में कांग्रेस के बिना बीजेपी को फाइट देने की केजरीवाल, अखिलेश और केसीआर जैसे नेताओं की सोच गलत है। कांग्रेस एक राष्ट्रीय पार्टी है जिसकी देश भर में व्यापक पहुंच है। देश भर में राहुल गांधी के नेतृत्व के लिए लोगों में एक स्वीकार का भाव है। राहुल को मै आवाज उठाने वाले नेता के तौर पर देखता हूं। संजय राउत ने यह भी साफ किया कि शिवसेना आने वाले वक्त में जम्मू-कश्मीर में विधानसभा चुनाव लड़ेगी।

पाकिस्तान जाने की सलाह पर संजर राउत ने दिया जवाब

शिंदे गुट के नेताओं ने संजय राउत को पाकिस्तान जाने की सलाह दी है। इस पर संजय राउत ने कहा कि जम्मू पर भी पाकिस्तान के तोप-गोले बरसते रहते हैं। आतंकियों के हमले होते रहते हैं। उन्हें कहिए यहां वे आएं, तब उन्हें पता चलेगा। वहां बैठ कर कुछ भी बोलना आसान है। पीएम मोदी ने तो कहा था कि पाक व्याप्त कश्मीर हिंदुस्तान में लेकर आएंगे। उनसे तो नहीं हो सका, हमारे हाथ में सत्ता आई तो हम जरूर पाकिस्तान ला सकते हैं। अखंड भारत का सपना पूरा कर सकते हैं।

देश जगाने के लिए सबके हाथों में हो मशाल

संजय राउत ने कहा कि भारत जोड़ो यात्रा से देश भर में एक अच्छा माहौल तैयार हुआ है। पठानकोट में हजारों युवा हाथों में मशाल लिए शामिल हुए। मशाल कांग्रेस का चिन्ह नहीं है। यह शिवसेना (ठाकरे गुट) का चिन्ह है। देश जगाने के लिए सबके हाथों में मशाल जरूरी है।

read more : विमान में पेशाब कांड के आरोपी शंकर मिश्रा पर बड़ा एक्शन, लगाया 4 महीने के लिए प्रतिबंध

RELATED ARTICLES
- Advertisment -
Google search engine

Most Popular

Recent Comments