Thursday, July 18, 2024
Homeदेशकल सूरत जा सकते हैं राहुल गांधी, अपनी सजा को सूरत कोर्ट...

कल सूरत जा सकते हैं राहुल गांधी, अपनी सजा को सूरत कोर्ट में देंगे चुनौती

कांग्रेस नेता राहुल गांधी ‘मोदी सरनेम’ मानहानि मामले में दो साल की सजा के खिलाफ 3 अप्रैल को सूरत कोर्ट में याचिका दाखिल कर सकते हैं। राहुल को सीजेएम (CJM) कोर्ट ने हाल में ही मोदी सरनेम के मानहानि केस में सजा सुनाई थी। सूत्रों के अनुसार फैसले को चुनौती देने वाली याचिका तैयार है। कल राहुल कोर्ट में दाखिल कर सकते हैं। वह मानहानि मामले में सजा पर रोक की मांग करेंगे। सजा पर रोक लगी तभी उनकी संसद सदस्यता बहाल हो सकेगी।

क्या है मामला ?

दरअसल, राहुल गांधी पर 2019 लोकसभा चुनाव के दौरान ‘मोदी सरनेम’ पर विवादित टिप्पणी करने का आरोप लगा था। इसी मामले में राहुल पर गुजरात के भाजपा विधायक और पूर्व मंत्री पूर्णेश मोदी ने मानहानि का मुकदमा दायर किया था। जिसपर सुनवाई करते हुए पिछले दिनों सूरत की एक अदालत ने अपना फैसला सुनाया। राहुल गांधी को इस मामले में दोषी छठराते हुए दो साल की सजा सुना दी। नियम के अनुसार, अगर किसी सांसद या विधायक को दो साल या इससे अधिक की सजा होती है तो उसकी सदस्यता चली जाती है। राहुल के साथ भी ऐसा ही हुआ। अगले ही दिन लोकसभा सचिवालय ने उनकी सदस्यता जाने का आदेश जारी कर दिया।

राहुल गांधी को सजा, मची राजनीतिक उथल-पुथल

बीजेपी ने आरोप लगाया था कि राहुल गांधी की कानूनी टीम ने कोर्ट के आदेश को चुनौती देने के लिए पर्याप्त मुस्तैदी नहीं दिखाई क्योंकि पार्टी कर्नाटक चुनाव से पहले इसे भुनाने का लक्ष्य बना रही थी। सवाल उठे रहे थे कि कांग्रेस नेता पवन खेड़ा की गिरफ्तारी पर तत्काल कार्रवाई हुई। लेकिन राहुल गांधी की सजा के बाद नहीं हुई। इसपर कांग्रेस महासचिव जयराम रमेश ने कहा था कि कानूनी टीम इस पर काम कर रही है। उन्होंने कहा था, हम जानते हैं कि कहां और कब अपील करनी है क्योंकि हमारे पास 30 दिनों का समय है।

राहुल गांधी को लेकर बीजेपी को घेरने की रणनीति

इससे पहले ये भी बात सामने आई थी कि कांग्रेस ने अपने नेता राहुल गांधी को संसद से अयोग्य ठहराए जाने के बाद एक महीने के लंबे आंदोलन की योजना बनाई है। महाराष्ट्र के पूर्व मुख्यमंत्री और कांग्रेस नेता पृथ्वीराज चव्हाण ने स्पष्ट कर दिया है कि लोकसभा से राहुल गांधी की अयोग्यता 2024 के लोकसभा चुनावों में नरेन्द्र मोदी के नेतृत्व वाली भाजपा सरकार को घेरने के लिए प्रमुख मुद्दों में से एक होगी।

मल्लिकार्जुन खरगे ने सरकार पर उठाए सवाल

वहीं, कांग्रेस के राष्ट्रीय अध्यक्ष मल्लिकार्जुन खरगे ने कहा था कि कांग्रेस कानूनी और राजनीतिक दोनों तरह से लड़ाई लड़ेगी। उन्होंने कहा था एक कानूनी टीम उस मामले पर काम कर रही है, जिसमें कांग्रेस के पूर्व अध्यक्ष राहुल गांधी को गुजरात की एक अदालत ने दोषी ठहराया था। जिसके बाद उन्हें लोकसभा की सदस्यता से अयोग्य घोषित कर दिया गया था। खरगे ने कहा था कि पार्टी राजनीतिक और कानूनी रूप से मामले का सामना करने के लिए तैयार है। कांग्रेस अध्यक्ष ने राहुल गांधी की अयोग्यता को प्रतिशोध करार दिया।

read more : सासाराम और बिहार शरीफ में तनाव जारी, इंटरनेट बंद-धारा 144 लागू

RELATED ARTICLES
- Advertisment -
Google search engine

Most Popular

Recent Comments