Thursday, July 18, 2024
Homeदेशहनुमान जी को 10 दिनों में मंदिर खाली करने का दिया नोटिस

हनुमान जी को 10 दिनों में मंदिर खाली करने का दिया नोटिस

रेलवे ने हनुमान जी को मंदिर खाली करने का नोटिस थमा दिया। जी हां इन दिनों झारखंड के धनबाद में रेलवे, नगर निगम अतिक्रमण के खिलाफ अभियान चला रहा है। इस अभियान के तहत निगम प्रशासन बुलडोजर चलाकर अवैध दुकानों, घरों को नष्ट कर रहा है। इसी क्रम में रेलवे प्रशासन रेलवे जमीन पर रह रहे लोगों के घरो में नोटिस चिपकाने के साथ मंदिरों में भी नोटिस चिपका रही है। दरअसल, रेलवे ने हनुमान जी को मंदिर खाली करने का नोटिस थमा दिया। ईस्ट सेंट्रल रेलवे ने मंगलवार शाम को मंदिर के बाहर ये नोटिस लगाया।

मामला धनबाद के बेकारबांध इलाके का है। खटीक बस्ती में रेलवे ने अपनी जमीन खाली कराने के लिए नोटिस चिपकाया है। रेलवे ने ना सिर्फ हनुमान मंदिर बल्कि आसपास की अवैध झुग्गी-झोपड़ियों को भी हटाने को कहा है। इस नोटिस में हनुमान जी का नाम लिखा है। इस पोस्टर में लिखा है, आपका मंदिर रेलवे की जमीन पर है। वहां अवैध कब्जा किया गया है। नोटिस मिलने के 10 दिनों के अंदर मंदिर हटा लें और जमीन खाली कर दें। नहीं तो आपके खिलाफ कानूनी कार्रवाई की जाएगी।

इस मामले में सीनियर सेक्शन इंजीनियर धनबाद रेल मंडल ने कहा कि यह बस एक मानवीय भूल है। इस नोटिस में गलती से हनुमान जी का नाम लिख दिया गया है। इसे सुधार किया जाएगा और आगे से ऐसी गलती ना हो इसका भी ध्यान रखा जाएगा। किसी की भावनाओं को आहत करना विभाग का मकसद नहीं था। हमें बस जमीन से अतिक्रमण हटाना था।’

हनुमान जी के नोटिस से लोगों में नाराजगी

इससे इन लोगों में नाराजगी है। बेकारबांध के खटीक मोहल्ले में 20 सालों से लोग रेलवे की जमीन पर रह रहे हैं। यहां खटीक समुदाय के लोग अधिकतर उत्तर प्रदेश से आए हैं। झुग्गी-झोपड़ी बनाकर वर्षों से पानी फल, मछली, सब्जी बेचने जैसे छोटे कारोबार करते हैं। रेलवे की टीम ने मोहल्ले में सभी घरों को अवैध कब्जा बताकर खाली करने का नोटिस चिपका दिया है। सभी घरों की दीवार पर नोटिस चिपकाया गया है। इस इलाके में 300 से ज्यादा परिवार रहते हैं।

READ MORE : नोटबंदी की संवैधानिक वैधता पर सुप्रीम कोर्ट में हुई सुनवाई शुरू

RELATED ARTICLES

1 COMMENT

Comments are closed.

- Advertisment -
Google search engine

Most Popular

Recent Comments