Thursday, July 18, 2024
Homeदेशएयर इंडिया की फ्लाइट में महिला पर 'पेशाब' करने वाला बेंगलुरू से...

एयर इंडिया की फ्लाइट में महिला पर ‘पेशाब’ करने वाला बेंगलुरू से गिरफ्तार

एयर इंडिया की फ्लाइट में महिला से बदसलूकी करने करने वाले शख्स आरोपी शंकर मिश्रा को पुलिस ने शनिवार को गिरफ्तार कर लिया है। दिल्ली पुलिस ने आरोपी शंकर मिश्रा को बेंगलुरु से गिरफ्तार किया है। पुलिस द्वारा दी गई जानकारी के मुताबिक, आरोपी को बेंगलुरु से दिल्ली लाया जा रहा है और मामले की जांच जारी है।

इससे पहले एयर इंडिया की न्यूयॉर्क-दिल्ली की फ्लाइट में महिला पर पेशाब करने वाले आरोपी शंकर मिश्रा पर उसकी कंपनी ने बड़ी कार्रवाई की थी। आरोपी बहुराष्ट्रीय कंपनी में वेल्स फारगो में काम करता था। जिसके बाद अब उसकी कंपनी ने उसे काम से निकाल दिया। कंपनी ने एक बयान जारी करते हुए बताया था कि इस घटना का उन्हें खेद है।

आरोपी शंकर मिश्रा के पिता ने आरोपों नाकारा

बता दें कि आरोपी शंकर मिश्रा ने शुक्रवार को महिला के कुछ संदेशों को साझा करते हुए यह दावा किया कि उन्होंने यह कथित हरकत माफ कर दी थी और शिकायत दर्ज कराने की उनकी कोई मंशा नहीं थी। वहीं, आरोपी शंकर मिश्रा के पिता ने शुक्रवार को दावा किया कि उनके बेटे पर लगे आरोप ‘पूरी तरह झूठे’ हैं। उन्होंने कहा, ‘मेरे बेटे ने खाना खाया और उड़ान के दौरान सो गया। वह 34 साल का है और मुझे नहीं लगता कि वह ऐसा कुछ कर सकता है। उसकी पत्नी और एक बेटी है।

एयर इंडिया की फ्लाइट में उस दिन क्या हुआ था ?

चौंकाने वाली एक घटना के तहत पिछले साल 26 नवंबर को एयर इंडिया की न्यूयार्क-दिल्ली उड़ान के बिजनेस क्लास में आरोपी शंकर मिश्रा ने नशे की स्थिति में कथित रूप से एक बुजुर्ग महिला यात्री के ऊपर कथित रूप से पेशाब कर दिया था। आरोपी शंकर मिश्रा ने अपने वकीलों, इशानी शर्मा और अक्षत वाजपेयी के जरिए जारी बयान में कहा कि उन्होंने 28 नवंबर को ही महिला के कपड़े एवं बैग धुलवा दिये थे और 30 नवंबर को उनके पास भेज दिये थे। बयान में कहा गया है, ‘व्हाट्सअप पर आरोपी और महिला द्वारा एक दूसरे को भेजे गये संदेश स्पष्ट दर्शाते हैं कि आरोपी ने 28 नवंबर को ही कपड़े एवं बैग साफ करवा दिये थे और 30 नवंबर को उनके पास भेज दिये थे।

हमने पेटीएम से महिला को भेज दिए थे पैसे

आरोपी शंकर मिश्रा ने अपने बयान में कहा था, ‘महिला ने अपने संदेश में साफ तौर पर इस कथित हरकत को माफ किया है और शिकायत दर्ज नहीं कराने की मंशा प्रदर्शित की है। महिला की शिकायत एयरलाइन द्वारा पर्याप्त मुआवजा के भुगतान के सिलसिले में है। जिसे उन्होंने 20 दिसंबर, 2022 को आगे की शिकायत में उठाया। बयान में कहा गया है कि आरोपी ने दोनों पक्षों के बीच जितने मुआवजे पर सहमति बनी। उसका 28 नवंबर को ही पेटीएम के माध्यम से भुगतान कर दिया। लेकिन करीब एक महीने बाद 19 दिसंबर को उनकी बेटी ने ये पैसे लौटा दिए।

घटना का कोई भी चश्मदीद नहीं

आरोपी शंकर मिश्रा ने अपने बयान में कहा है,‘केबिन क्रू की जांच समिति के सामने दर्ज बयान बताते हैं कि इस घटना का कोई चश्मदीद नहीं है और सारी कहानी बस सुनी सुनायी बातों पर आधारित हैं । दोनों पक्षों के बीच विवाद निपटान की केबिन क्रू द्वारा सौंपे गये बयान में पुष्टि हुई है। आरोपी शंकर मिश्रा को देश की न्यायपालिका पर पूरा विश्वास है और वह जांच प्रक्रिया में सहयोग करेगा। बुधवार को दर्ज की गयी FIR के मुताबिक, महिला ने क्रू को बताया था। वह पेशाब करने वाले का चेहरा नहीं देखना चाहती थी। जब उसे उसके सामने लाया गया और वह रो रहा था और माफी मांग रहा था।

आरोपी के खिलाफ कई धाराओं में मामला दर्ज

दिल्ली पुलिस के अधिकारी ने बुधवार को बताया कि उसने एयर इंडिया द्वारा की गई शिकायत के आधार पर इस हैरान करने वाले मामले में एफआईआर दायर कर ली है। मामले में आरोपी शंकर मिश्रा के खिलाफ भादंवि की धारा 354, 509 और भारतीय विमानन कानून की धारा 23 के तहत केस दायर किया गया है। उन्होंने बताया कि पीड़ित महिला व आरोपी दोनों दिल्ली में नहीं रहते हैं। पुलिस सूत्रों ने कहा कि महिला के आसपास बैठने वाले यात्रियों से भी पूछताछ की जाएगी।

read more : गांजा की सप्लाई करती थी अंजलि की दोस्त निधि, हो चुकी है गिरफ्तार

RELATED ARTICLES
- Advertisment -
Google search engine

Most Popular

Recent Comments