Wednesday, July 17, 2024
Homeदेशमहाराष्ट्र की सियासत से बड़ी खबर, शरद पवार ने अध्यक्ष पद छोड़ने...

महाराष्ट्र की सियासत से बड़ी खबर, शरद पवार ने अध्यक्ष पद छोड़ने का किया ऐलान

महाराष्ट्र की सियासत से बड़ी खबर सामने आई है। शरद पवार ने एनसीपी अध्यक्ष पद छोड़ने का फैसला किया है। शरद पवार ने कहा, ‘मैं एनसीपी के राष्ट्रीय अध्यक्ष पद से इस्तीफा दे रहा हूं।’ शरद पवार के इस ऐलान के बाद महाराष्ट्र की सियासत में हड़कंप मच गया है और एनसीपी के कार्यकर्ता शरद पवार के समर्थन में नारेबाजी कर रहे हैं।

शरद पवार का कहना है कि वह एनसीपी के अध्यक्ष पद से रिटायर हो रहे हैं। शरद पवार ने कहा कि अब मैं चाहता हूं कि एनसीपी की जिम्मेदारी कोई और संभाले। मैंने कई साल तक पार्टी की जिम्मेदारी संभाली है और अब पार्टी का नेतृत्व नहीं करना चाहता। उन्होंने कहा कि वह राजनीति में सक्रिय रहेंगे, लेकिन पार्टी अध्यक्ष पद से रिटायर होना चाहते हैं। लेकिन एनसीपी के कार्यकर्ता उनसे ये फैसला वापस लेने की मांग कर रहे हैं।

महाराष्ट्र की सियासत में हलचल हुई तेज

शरद पवार के इस ऐलान के बाद महाराष्ट्र की सियासत में हलचल तेज हो गई है। हाल ही में एनसीपी प्रदेश अध्यक्ष जयंत पाटिल का एक बयान सामने आया था, जिसमें उन्होंने कहा था कि महाराष्ट्र में अगला सीएम एनसीपी का ही होगा। वहीं पाटिल के इस बयान पर शिवसेना (उद्धव बालासाहेब ठाकरे) नेता संजय राउत ने कहा था, ‘जयंत पाटिल ने सीएम पद का जो दावा किया है, नेता इस तरह का बयान अपने पार्टी कार्यकर्ताओं का जोश बढ़ाने के लिए देते हैं। लेकिन सीएम पद पर कौन सी पार्टी का नेता बैठेगा, यह महाविकास अघाड़ी के नेता बात करके तय करेंगे। जयंत पाटिल को दावा करने दीजिए, सीएम महाविकास अघाड़ी का होगा।

सीएम पद को लेकर क्यों हैं चहल-पहल ?

ऐसा इसलिए हो रहा है क्योंकि सुप्रीम कोर्ट की संविधान पीठ का फैसला शिवसेना के 16 विधायकों की योग्यता को लेकर आना बाकी है। ये विधायक शिवसेना में बगावत करके बीते साल शिंदे गुट में शामिल हो गए थे। इन विधायकों में सीएम एकनाथ शिंदे भी हैं। सुप्रीम कोर्ट का फैसला जो भी आएगा, वह तो बाद की बात है लेकिन आशंका अभी से जताई जा रही है कि महाराष्ट्र में वर्तमान सरकार गिर सकती है और शिंदे का सीएम पद जा सकता है। ऐसे में चर्चा इस बात की है कि सीएम किस पार्टी का बनेगा।

संगठन में बदलाव का इशारा कर चुके हैं शरद पवार

इससे पहले पिछले हफ्ते शरद पवार ने मुंबई में आयोजित युवा मंथन कार्यक्रम में रोटी पलटने की बात कह डाली। शरद पवार बोले, ‘किसी ने मुझे कहा कि रोटी सही समय पर पलटनी होती है और अगर सही समय पर नहीं पलटी तो वो कड़वी हो जाती है। अब सही समय आ गया है रोटी पलटने का, उसमें देरी नहीं होनी चाहिए। इस बारे में पार्टी के वरिष्ठ नेताओं को आग्रह करूंगा की वो इस पर काम करें।’ शरद पवार का ये बयान ऐसे समय आया था, जब उनके भतीजे और एनसीपी नेता अजित पवार के नए राजनीतिक कदम को लेकर अटकलें लगाई जा रहीं हैं। दावा किया जा रहा है कि वह भाजपा के साथ हाथ मिला सकते हैं। हालांकि, अजित पवार इन अटकलों को खारिज भी कर चुके हैं।

तो शरद पवार भतीजे या बेटी को पार्टी की कमान सौंप सकते हैं 

शरद पवार ने युवा मंथन कार्यक्रम में अपनी बात रखी है। ऐसे में हो सकता है कि अब शरद पवार पार्टी की जिम्मेदारी किसी युवा हाथों में देना चाहते हों। इसमें दो बड़े नाम हैं। पहला उनकी बेटी सुप्रिया सुले और दूसरा उनके भतीजे अजित पवार हैं। अजित पवार को लेकर हाल के दिनों में कई अटकलें लग चुकी हैं। संभव है कि पवार इन्हीं दोनों में से किसी एक को पार्टी की कमान सौंप दें। इसके जरिए वह युवाओं के बीच संदेश देना चाहते हों कि एनसीपी में युवाओं के लिए अवसर है और एनसीपी युवाओं को आगे बढ़ाती है।

read more : फिर तिहाड़ में गैंगस्टर की हत्या , इस बार गैंगस्टर टिल्लू ताजपुरिया की हुई हत्या

RELATED ARTICLES
- Advertisment -
Google search engine

Most Popular

Recent Comments