Thursday, July 18, 2024
Homeउत्तर प्रदेशयूपी निकाय चुनाव में हार के बाद पहली बार अखिलेश यादव

यूपी निकाय चुनाव में हार के बाद पहली बार अखिलेश यादव

समाजवादी पार्टी के राष्ट्रीय अध्यक्ष अखिलेश यादव सोमवार को यूपी के इटावा पहुंचे। जिले के जसवंत नगर के फतेहपुरा गांव में अखिलेश यादव ने वरिष्ठ नेता स्वर्गीय महावीर सिंह यादव को श्रद्धांजलि दी। इस दौरान उन्होंने मीडिया से बात करते हुए बीजेपी पर निशाना साधा। उन्होंने कहा कि जिस तरह से कर्नाटक से बीजेपी साफ हुई है उसी तरह आने वाले समय में यूपी और देश के दूसरे राज्यों से भी सफाया होगा।

उन्होंने कहा, निकाय चुनाव में अधिकारियों ने बेईमानी न की होती तो आज परिणाम कुछ अलग होते। वोटर लिस्ट से लेकर सरकारी कर्मचारियों के व्यवहार से लगता है कि सरकार के दबाव में निकाय चुनाव कराया गया, लेकिन जनता अबकी बार बीजेपी को पूरे देश से बाहर करने का काम करेगी।

वोटों के ध्रुवीकरण पर बोले अखिलेश यादव

आम आदमी पार्टी और एआईएमआईएम की ओर से मुस्लिम वोटों के ध्रुवीकरण के सवाल पर अखिलेश यादव ने कहा कि बीजेपी कहीं पर खुद चुनाव लड़ती है तो कहीं पर दूसरे दलों को आगे कर देती है। इसलिए इन दलों को सोचना पड़ेगा कि आने वाले समय में कि किसके साथ रहने से लोकतंत्र बचेगा और किसके साथ रहने से नहीं बचेगा।

समाजवादी पार्टी का वोट प्रतिशत बढ़ा – अखिलेश यादव

सपा अध्यक्ष ने आगे कहा कि पिछले मेयर और नगर पालिका के चुनाव से तुलना करें तो इस बार पार्टी का वोट प्रतिशत बढ़ा है। केंद्र सरकार की 9 साल की उपलब्धियों पर अखिलेश यादव ने कहा कि 9 महीने में एक नया जीवन मिल जाता है। जो बुनियादी समस्याएं और सवाल थे, वहीं के वहीं हैं, महंगाई और बेरोजगारी आज भी चरम सीमा पर है। देश और प्रदेश के अधिकारी बीजेपी के पदाधिकारी बन कर काम कर रहे हैं। शहरों में गंदगी और किसानों की समस्या का 9 साल में कोई भी समाधान नहीं हुआ, वह आज भी वैसी की वैसी ही है। 2024 की तैयारी में मीडिया के प्रचार से बचने का प्रयास रहेगा।

read more : इमरान खान को फांसी दे दी जाए, पाकिस्तान की संसद में उठी मांग

RELATED ARTICLES
- Advertisment -
Google search engine

Most Popular

Recent Comments