Wednesday, July 17, 2024
Homeदेशपिकनिक स्थल नही बनने देंगे , अंतिम सांस तक करेंगे शिखरजी के...

पिकनिक स्थल नही बनने देंगे , अंतिम सांस तक करेंगे शिखरजी के लिये आन्दोलन – गौरव जैन

जनपद मुज़फ्फरनगर के समस्त जैन समाज की अतिआवश्यक बैठक जैन अतिथि भवन,भारत माता चौक प्रेमपुरी में सम्पन्न हुई। जिसमें सभी जैन संस्थाओं व संगठनों से सैकड़ो लोगो ने भागीदारी की व एक मत होकर तय किया कि 25 दिसम्बर 2022 को जैन समाज मुज़फ्फरनगर जैन औषधालय पर एकत्रित हो शहर के मुख्य मार्गो से पैदल मार्च करते हुए कलेक्ट्रेट पहुंचेगा। गौरव जैन ने कहा की महामहिम राष्ट्रपति मुर्मू महोदया को संबोधित एक मांग पत्र जिलाधिकारी महोदय को सौपा जायेगा। इस अपेक्षा के साथ कि सम्मेद शिखरजी के सम्बंध में सरकार तानाशाही निर्णय वापस ले।

पिकनिक स्थल किसी कीमत पर नहीं बनने देंगे

गौरतलब है कि सम्मेद शिखरजी को भाजपा सरकार द्वारा “वन्य अभयारण्य क्षेत्र” घोषित किये जाने के बाद से ही पूरे देश के जैन समाज में आक्रोश व्याप्त है। अधिकतर प्रदेशो व जनपदों में जैन समाज आंदोलनरत है। सड़क पर प्रदर्शन कर अथवा मांग पत्रों द्वारा या रैली निकाल कर अपने अपने तरीके से सरकार के प्रति अपनी नाराजगी जाहिर कर रहा है। एक ही आवाज हर ओर सुनाई दे रही है कि जैन तीर्थो को पिकनिक स्थल किसी कीमत भी बनने नही दिया जायेगा। इसके लिए कोई भी कुर्बानी देनी पड़ी तो जैन समाज पीछे नही हटेगा। बैठक को संबोधित करते हुए अनेको लोगो ने अपने विचार रखे।

शिखरजी को लेकर लिया गया निर्णय तानाशाही – गौरव जैन

जिसमे प्रमुख रूप से बोलते हुए गौरव जैन ने कहा की शिखरजी को लेकर तत्कालीन झारखण्ड सरकार व आज की केंद्र द्वारा लिया गया निर्णय तानाशाही है। इसे सरकार वापस ले अन्यथा शिखरजी तीर्थ के लिए हम अपनी अंतिम श्वास तक संघर्ष करेंगे। प्रदीप जैन ने कहा कि आज समय है कि जब जैन समाज को अपनी एकजुटता दिखानी ही पड़ेगी। लोकतंत्र में सरकार की तानाशाही कार्यवाही के विरुद्ध आपकी गिनती ही आपके लिये न्याय का रास्ता बनाती है।

read more : कोरोना रुला रहा खून के आंसू, जीरो कोविड पॉलिसी के बीच तेजी से बढ़ रहा मौत का आंकड़ा

RELATED ARTICLES
- Advertisment -
Google search engine

Most Popular

Recent Comments