Thursday, July 18, 2024
Homeविदेशभूकंप से तुर्की और सीरिया तक कांपी धरती , 640 से अधिक...

भूकंप से तुर्की और सीरिया तक कांपी धरती , 640 से अधिक मौतों की खबर

तुर्की में आज सुबह बेहद शक्तिशाली भूकंप आया है। भूकंप स्थानीय समय के मुताबिक, सुबह 4:17 बजे आया, जिसकी तीव्रता रिक्टर स्केल पर 7.8 आंकी गई। तुर्की के दक्षिण में गाजियानटेप के पास आया यह भूकंप कितना विनाशकारी था, इसका अंदाजा इसी बात से लगाया जा सकता है कि इसकी ​तीव्रता रिक्टर स्केल पर 7.8 थी। तुर्की और सीरिया में भीषण भूकंप के दो झटकों से बड़ी तबाही आई है। तुर्की और सीरिया में भूकंप से सैकड़ों लोगों की मौत हो गई और कई इमारतें ध्वस्त हो गईं।

जर्मन रिसर्च सेंटर फॉर जिओ साइंस (GFZ) के अनुसार भूकंप का केंद्र जमीन से 18 किलोमीटर नीचे था। भूकंप से तुर्की के दक्षिण पूर्वी इलाके और सीरिया में भी भारी क्षति की खबरें हैं। न्यूज एजेंसी एपी के अनुसार दोनों देशों में भूकंप से करीब 640 लोगों के मरने की खबर है। बॉर्डर पर दोनों देशों के इलाकों में भारी तबाही की खबरें हैं। तुर्की के राष्ट्रपति रजब तैयब एर्दोगन ने ट्वीट कर बताया कि भूकंप से प्रभावित इलाकों में रेस्क्यू अभियान जारी है।

तुर्की के 7 प्रांतों में 284 लोग मारे गए, 440 से अधिक घायल

डिजास्टर और इमरजेंसी मैनेजमेंट एजेंसी तुर्की के अनुसार तुर्की के ही 7 प्रांतों में करीब 284 लोग मारे गए। एजेंसी ने कहा कि करीब 440 लोगों के अभी तक घायल होने की खबर है। सीरिया की स्टेट मीडिया के अनुसार, सीरिया के सरकारी कब्जे वाले इलाकों वाले क्षेत्रों में मरने वालों की संख्या 237 हो गई और 630 से अधिक घायल हो गए। जानकारी के अनुसार, विद्रोहियों के कब्जे वाले क्षेत्रों में कम से कम 120 लोग मारे गए।

10 मिनट बाद फिर दूसरी बार आया भूकंप

मध्य तुर्की में 7.8 तीव्रता का भूकंप आया। इसके बाद एक और तेज भूकंप आया। जानकारी के अनुसार पहले भूकंप के बाद करीब 10 मिनट बाद फिर 6.7 तीव्रता का तेज भूकंप आया। जो जानकारी सामने आई उसके मुताबिक कई इमारतें इस शक्तिशाली भूकंप के कारण ध्वस्त हो गईं। सेन्लिउर्फा शहर के मेयर ने बताया कि शक्तिशाली भूकंप की वजह से 16 इमारतें भरभराकर गिर गईं।

तुर्की में तीन इमारतें गिरते हुए देखीं

तुर्की के अडाना शहर के एक रहवासी ने बताया कि उसने भूकंप के कंपन के बाद अपने घर के सामने तीन इमारतों को गिरते देखा। एक अन्य रहवास युनूस ने बताया कि राहत और बचाव का काम तेजी से किया जा रहा ह। मलबे में फंसे लोगों को ढूंढा जा रहा है।

भर गए अस्पताल, सीरिया में कई लोग मलबे में दबे

उधर सीरिया में सैकड़ों परिवार मलबे में दबे हुए हैं। तबाही का बड़ा ही वीभत्स मंजर है। बचावकर्मियों का कहना है भूकंप का जलजला ऐसा था कि यहां रहने वाले करीब 40 लाख से अधिक विस्थपित लोगों का इलाका भूकंप के भारी कंपन से प्रभावित हुआ है। सीरिया के गृहयुद्ध के दौरान विस्थपित शरणार्थियों के लिए बनी ये इमारतें पहले से ही जर्जर हो चुकी थीं। मलबे में फंसे लोगों को निकालने वाले बचावकर्मियों ने कहा कि घायलों की संख्या इतनी ​अधिक है कि अस्पताल ही घायलों से भर गए।

इस आपदा से मिलकर निपटेंगे – राष्ट्रपति एर्दोगन

तुर्की के राष्ट्रपति एर्दोगन ने ट्विटर पर कहा कि भूकंप से प्रभावित क्षेत्रों में खोज और बचाव दलों को तुरंत भेजा गया। हमें उम्मीद है कि हम इस आपदा को एक साथ जल्द से जल्द और कम से कम नुकसान के साथ पार कर लेंगे।

सीरिया, लेबनान में भी भूकंप से कांपी धरती

बताया जा रहा है कि भूकंप के झटके लेबनान, सीरिया में भी महसूस किए गए। सीरिया में अलेप्पो और हमा शहर से नुकसान की खबरें सामने आ रही हैं। सिविल डिफेंस के मुताबिक, सीरिया में तुर्की से लगे इलाकों में कई इमारतें गिर गईं। सीरिया की राजधानी दमिश्क में भी भूकंप के झटकों के बाद लोग सड़कों पर आ गए। लेबनान में करीब 40 सेकंड तक भूकंप के झटके महसूस किए गए।

पीएम मोदी ने भूकंप त्रासदी पर जताया शोक

पीएम नरेंद्र मोदी ने तुर्की में आए विनाशकारी भूकंप पर गहरा शोक जताया है। उन्होंने अपने ट्वीट में संदेश में कहा ‘तुर्की में आए भूकंप के कारण जनहानि और संपत्तियों को हुए नुकसान से दुखी हूं। शोक संतप्त परिवारों के प्रति मेरी संवेदनाएं हैं। घायलों के शीघ्र स्वस्थ होने की प्रार्थना है। इस विपत्ति की घड़ी में भारत तुर्की के साथ एकजुटता के साथ खड़ा है। इस भूकंप की त्रासदी से निपटने में हरसंभव मदद के लिए हम तैयार हैं।

read more : मेयर, डिप्टी मेयर और स्टैंडिंग कमेटी सदस्यों का चुनाव तीसरी बार टला

 

RELATED ARTICLES

2 COMMENTS

  1. Dukhad khabar Turki ke sath puri duniya hai allah asaan krega is afat se jald Rahat hogi

Comments are closed.

- Advertisment -
Google search engine

Most Popular

Recent Comments