सीएम नीतीश कुमार ने साबित किया बहुमत, तेजस्वी यादव के साथ हुआ हुआ खेला

सीएम नीतीश कुमार ने साबित किया बहुमत, तेजस्वी यादव के साथ हुआ हुआ खेला
सीएम नीतीश कुमार ने साबित किया बहुमत, तेजस्वी यादव के साथ हुआ हुआ खेला

बिहार की सियासत से जुड़ी बड़ी खबर सामने आई है। मुख्यमंत्री नीतीश कुमार के आग्रह के बाद सदन में वोटिंग कराई गई। विधानसभा में नीतीश कुमार ने विश्वास मत हासिल कर लिया है। डिप्टी स्पीकर को जोड़कर 130 वोट विश्वास मत के पक्ष में पड़े हैं। वहीं विश्वास मत पर वोटिंग से विपक्ष ने वॉकआउट कर लिया। सत्ता पक्ष के समर्थन में 130 वोट पर पड़े। राजद समेत महागठबंधन ने वॉकआउट का रास्ता अपनाया। इस तरह मुख्यमंत्री नीतीश कुमार फ्लोर टेस्ट में पास हो गए। मुख्यमंत्री नीतीश कुमार ने अपने संबोधन में कहा कि खरीदने की कोशिश हुई, लेकिन या कोशिश सफल नहीं हो पाई। सरकार के पास पहले 128 विधायक थे।

एनडीए और महागठबंधन के बीच शह-मात का खेल

अविश्वास प्रस्ताव को लेकर एनडीए और महागठबंधन दोनों के बीच शह-मात का खेल चलता रहा और दोनों ही गठबंधनों की तरफ से अपने-अपने विधायकों को साधने का प्रयास चलता रहा। बता दें कि पिछले कुछ दिनों में इस बात की आशंका जतायी जा रही थी कि जेडीयू और बीजेपी के कुछ विधायक विद्रोह कर सकते हैं।

तेजस्वी यादव ने नीतीश कुमार पर बोला बड़ा हमला

सियासी उठापटक के बीच तेजस्वी ने नीतीश पर जमकर हमला बोला। तेजस्वी ने कहा एक ही टर्न में तीन बार यू टर्न लेना, ऐसा तो कहीं देखा ही नहीं। नीतीश कुमार ने तो नौ बार सीएम की शपथ लेकर इतिहास रच दिया। नीतीश कुमार की भी राजा दशरथ की तरह कोई ना कोई मजबूरियां रही होंगी। तेजस्वी ने कहा कि नीतीश आदरणीय हैं और रहेंगे। बिहार के युवाओं को हमने नौकरी बांटी, जो भी असंभव था उसे संभव किया। हमने 2 लाख लोगों को रोजगार दिया। सब जानना चाहते हैं कि नीताश ने पाला क्यों बदला। दशरथ ने नहीं कैकयी ने राम को वनवास भेजा था, नीतीश कुमार समझाएं कि कैकयी कौन है। नीतीश जी एक बार बता देते कि अलग होना है।

तेजस्वी यादव ने जदयू खेमे में गए तीन विधायकों को भी किया संबोधित

तेजस्वी यादव ने जदयू खेमे में गए तीन विधायकों को भी संबोधित करते हुए कहा कि प्रह्लाद जी आप इतने साल राजद के साथ रहे मैं आपका धन्यवाद देता हूं। चेतन आनंद मेरे छोटे भाई समान हैं। जब कोई दल इन्हें टिकट नहीं दे रहा तब राजद ने इन्हें टिकट दिया और विधायक चुने गए। हमने इन्हें इनके पिता में गुण पर नहीं बल्कि इनके गुण के आधार पर इन्हे अपने साथ लाये थे।

नीलम जी आप महिला हैं हम आपका सम्मान करते हैं। जो भी बातें हुई हैं, अगर नहीं पूरा होता है तो हमें याद कीजिएगा। तेजस्वी यादव ने कहा कि ओल्ड पेंशन नीति लागू करवाइए। सम्राट चौधरी से उन्होंने कहा कि आप इसे लागू करवाइए हम क्रेडिट आपको देंगे। यह कहते हुए तेजस्वी याद सदन से निकल गए।

read more : आरजेडी विधायक चेतन आनंद के गायब होने की खबर, भाई ने थाने में की शिकायत

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here