उत्तर प्रदेश के इतिहास का सबसे बड़ा बजट , जानिए “आम” के लिए क्यों खास

योगी सरकार ने पेश किया इतिहास का सबसे बड़ा बजट

मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ के नेतृत्व में वित्तमंत्री सुरेश खन्ना ने यूपी वित्तीय वर्ष 2024-25 का वार्षिक बजट पेश किया। ये बजट उत्तर प्रदेश के इतिहास में अब तक का सबसे बड़ा बजट है। इस बजट का आकर 7 लाख 36 हजार 437 करोड़ 71 लाख रुपये है। इसमें 24 हज़ार करोड़ रुपए की नई योजनाएं लाई गई है। बता दें कि , इसमें कनेक्टिविटी विस्तार और इंफ्रास्ट्रक्चर डेवलपमेंट के साथ ही युवाओं , किसानों , महिलाओं और गरीबों पर फोकस किया गया है।

बजट में सरकार ने पांच हजार करोड़ रुपए से अधिक धार्मिक स्थलों के विकास और इससे सम्‍बन्‍धित इन्फ्रास्ट्रक्टर के विकास के लिए दिए हैं। यूपी के धार्मिक शहरों के विकास पर जोर दिया गया है। साथ ही अयोध्‍या एयरपोर्ट के विस्‍तार के लिए 150 करोड़ के प्रावधान के साथ ही अयोध्या की तर्ज पर ही काशी और मथुरा के विकास की भी योजना तैयार की गई है।

यूपी बजट में क्या है खास

  • यूपी बजट की नीतियां खासतौर पर युवा, महिलाओं, किसानों और गरीबों के उत्‍थान के लिए समर्पित हैं।
  • बजट 2024 में राज्य राजमार्गों के चौड़ीकरण और सुदृढ़ीकरण कार्यों के लिए 2881 करोड़ रुपये की व्यवस्था प्रस्तावित है।
  • धर्मार्थ मार्गों के विकास के लिए 1750 करोड़ रुपये की व्यवस्था प्रस्तावित किया गया है।
  • राज्य सड़क निधि से सड़कों के अनुरक्षण के लिए 3000 करोड़ रुपये और निर्माण के लिए 2500 करोड़ रुपये की व्यवस्था प्रस्तावित है।
  • चीनी मिल परिक्षेत्र में कृषि विपणन सुविधाओं के लिए मार्गों का चौड़ीकरण एवं सदृढ़ीकरण, नवनिर्माण, पुर्ननिर्माण कार्यों के लिए 500 करोड़ रुपये की व्यवस्था प्रस्तावित है।
  • रेलवे उपरिगामी – अधोगामी सेतुओं के निर्माण के लिए 1350 करोड़ रुपये एवं ग्रामीण सेतुओं के लिए 1500 करोड़ रुपये प्रस्तावित किए गए हैं।
  • लखनऊ में दिल्ली की तर्ज पर एयरोसिटी का निर्माण किया जाएगा।इसका विकास 1500 एकड़ में होगा।
  • फ्यूचर एनर्जी पर 4000 करोड़ का एमओयू हुआ है। इसके तहत सेवेन स्टार होटल और अन्य सुविधाओं का विकास किया जाएगा।

यूपी के वित्तमंत्री सुरेश खन्ना वर्ष 2024-25 का वार्षिक बजट पेश करने के साथ ही योगी सर्कार की उपलब्धियां भी बताई। राम मंदिर निर्माण के बाद अयोध्‍या अब वैश्विक पर्यटन का केंद्र बन गया है। योगी सरकार में यूपी की कानून व्यवस्था में अभूतपूर्व सुधार हुआ है। राज्य सरकार के प्रयासों से मातृ मुत्यु दर में भी कमी दर्ज की गयी ही। प्रदेश के सभी 75 जनपदों में निःशुल्क डायलिसिस की सुविधा उपलब्ध कराई जा रही है।

सीएम योगी ने रामलला को अर्पित किया बजट

आपको बता देयों , यूपी में योगी सरकार का आज आठवां बजट पेश हो गया है।वहीं बजट पेश होने के बाद सीएम योगी आदित्यनाथ ने खुशी जताते हुए कहा कि , इस बजट को हम श्री रामलला को अर्पित करते हैं। इस बजट की शुरुआत में , मध्य में और अंत में , सबमें प्रभु श्रीराम हैं। इसके विचार में , संकल्प में , एक-एक शब्द में श्रीराम हैं।

Read More : भाजपा ने नीतीश के लिए दरवाजा बंद किया पर कुंडी लगाना भूल गए – प्रशांत किशोर