ईडी ने राहुल गांधी को 13 जून को पूछ-ताछ के लिए बुलाया, कांग्रेस ने केंद्र पर किया वार

कांग्रेस

नई दिल्ली : नेशनल हेराल्ड केस में ईडी ने कांग्रेस नेता राहुल गांधी को दोबारा समन जारी किया है। उन्हें पूछताछ के लिए 13 जून को तलब किया गया है। इससे पहले ईडी ने कांग्रेस नेता को दो जून को तलब किया था। हालांकि, विदेश में होने के चलते वह पूछ-ताछ के लिए ईडी के सामने पेश नहीं हुए थे। सूत्रों ने बताया कि राहुल गांधी 19 मई को लंदन रवाना हुए थे। वे 20 से 23 मई के बीच लंदन में आयोजित कार्यक्रमों में शामिल हुए थे। उसके बाद से वे भारत नहीं लौटे हैं। राहुल गांधी के 5 जून तक स्वदेश लौटने की उम्मीद है। वहीं इस मामले में कांग्रेस अध्यक्ष सोनिया गांधी को भी नोटिस जारी किया गया है। उन्हें आठ जून को ईडी ने तलब किया है।

ईडी के नोटिस से नहीं टूटेगा सोनिया-राहुल का हौसला : कांग्रेस

ईडी के समन पर कांग्रेस ने अपने आधिकारिक ट्विटर हैंडल से कहा कि, ‘जब कांग्रेस अंग्रेजों व उनके अत्याचार से नहीं डरी तो ईडी के नोटिस कैसे सोनिया गांधी जी व राहुल गांधी जी तथा पार्टी का हौसला तोड़ सकते हैं? हम जीतेंगे, झुकेंगे नहीं। हम नहीं डरेंगे।’

Read More : Ground Breaking Ceremony 3.0 में PM नरेंद्र मोदी की कही गईं 10 बड़ी बातें

राजनीति से प्रेरित मामला : अभिषेक मनु सिंघवी

उधर, कांग्रेस के वरिष्ठ प्रवक्ता अभिषेक मनु सिंघवी ने बीते बुधवार को मुख्य प्रवक्ता रणदीप सुरजेवाला के साथ एक प्रेस कॉन्फ्रेंस की। उन्होंने कहा कि दोनों नेता ईडी के सामने पेश होंगे। हम उनका सामना करेंगे। हम इस तरह की रणनीति से डरे हुए या भयभीत नहीं हैं। यह राजनीति से प्रेरित मामला है और इसमें किसी जांच की जरूरत नहीं है। सुरजेवाला और सिंघवी ने पुष्टि की कि जब भी ईडी चाहेगा गांधी परिवार जांच में शामिल होगा। राहुल गांधी के 5 जून तक स्वदेश लौटने की उम्मीद है। वहीं इस मामले में कांग्रेस अध्यक्ष सोनिया गांधी को भी नोटिस जारी किया गया है। उन्हें आठ जून को ईडी ने तलब किया है।