Thursday, July 18, 2024
Homeबिहारबीजेपी नेता सुशील मोदी ने दी सीएम नीतीश कुमार को नसीहत

बीजेपी नेता सुशील मोदी ने दी सीएम नीतीश कुमार को नसीहत

प्राची श्रीवास्तव : आपको बताते चले कि इन दिनों राजनीती बिहार के सीएम नीतीश कुमार के बयानों की वजह से गरमाई हुई है। पहले महिलाओं को लेकर अपत्तिजनक टिप्पडी की उसके बाद राम जीतन मांजी को लेकर विधानसभा में दिए गए बयान की वजह से। इन्ही बयानों की वजह से अब बीजेपी नेता सुशील कुमार मोदी ने सीएम नीतीश कुमार को नसीहत दे डाली और उनको आराम करने को कहा, साथ ही सुशील मोदी ने कहा कि ऐसा लगता है कि वह किसी गंभीर बीमारी से ग्रसित हैं। क्योंकि उनको कभी इतना उग्र नहीं देखा है। सुशील मोदी ने कहा कि महादलित समाज के राम जीतन मांझी को सीएम बनाकर नीतीश कुमार ने कोई एहसान नहीं किया था। बल्कि उस समय जेडीयू में विद्रोह टालने के लिए पद छोड़ना पड़ा था।

नीतीश कुमार किसी गंभीर बीमारी से ग्रसित – सुशील मोदी

सुशील मोदी ने नागपुर में कहा, ”मुझे लगता है कि नीतीश कुमार किसी गंभीर बीमारी से ग्रसित है, क्यूंकि मैंने आजतक नीतीश कुमार को इतना उग्र नहीं देखा है। मांझी जी नीतीश कुमार से उम्र में भी बड़े हैं और उनका राजनितिक जीवन भी उनसे बड़ा है। मेरी नीतीश जी को सलाह है कि उनको तेजश्वी यादव को सीएम बना देना चाहिए जो की उनका उत्तराधिकारी भी है, अब नीतीश जी को आराम की जरूरत है।

सुशील मोदी ने आगे कहा कि 2014 के संसदीय चुनाव की नमो-बीजेपी लहर में जेडीयू केवल दो सीट जीतने से हतप्रभ सीएम नीतीश कुमार ने अपनी डूबती नैया बचाने के लिए दलित मुख्यमंत्री का कार्ड खेला था। तब मुख्यमंत्री जिस बात पर सीना फुला रहे थे, आज वे उसी बात के लिए मांझी पर अंगुली उठाते हुए अपनी मूर्खता क्यों बता रहे हैं ?

कांग्रेस के सभी नेताओ को हिन्दुओं से दिक्कत – सुशील मोदी

वहीं, आचार्य प्रमोद कृष्णम के बयान पर सुशील मोदी ने कहा, ”आचार्य प्रमोद जी ने सही कहा है कि कांग्रेस को सनातन और राम मंदिर से दिक्कत है और लगभग कांग्रेस के सभी नेताओ को हिन्दुओं से दिक्कत है। लज्जित-अपमानित करने वाले शर्मनाक बयानों के बाद पीएम-पद का उम्मीदवार होना तो दूर सीएम नीतीश कुमार के इंडी गठबंधन का संयोजक बनने के लायक भी नहीं है। उनके ओछे भाषण से देश-विदेश में बिहार के मुख्यमंत्री का पद लांछित हुआ।” सुशील मोदी ने कहा कि महिलाओं पर जिस अश्लील टिप्पणी के लिए नीतीश कुमार खुद अपनी निंदा करते हुए क्षमा मांग चुके हैं, उसे जायज ठहराने के लिए राजद-जदयू के लोग बड़ी बेशर्मी से एनसीईआरटी और सेक्स एजुकेशन की किताबें दिखाते फिर रहे हैं।”

read more : उज्जवला योजना के तहत लाभार्थी उठा सकते है फायदा – सीएम योगी

RELATED ARTICLES
- Advertisment -
Google search engine

Most Popular

Recent Comments