Thursday, July 18, 2024
Homeउत्तर प्रदेशलोकसभा चुनाव में 12 साल की बच्ची डालने पहुंची वोट, देख बूथ...

लोकसभा चुनाव में 12 साल की बच्ची डालने पहुंची वोट, देख बूथ कर्मचारी रह गए दंग

लोकसभा चुनाव के तीसरे चरण की वोटिंग बीते दिन यानी 7 मई को संपन्न हुई। इसी दिन संभल लोकसभा में वोट डाले गए। अब यहां से एक खबर सामने आ रही है कि पोलिंग बूथ पर एक 12 साल की बच्ची भी वोट डालने पहुंची थी। जानकार आपको भी हैरानी होगी कि वोटर लिस्ट में बच्ची का नाम भी शामिल था। अब इस मामले पर डीएम ने सख्ती दिखाई है, उन्होंने कहा कि इस मामले पर जांच कर कार्रवाई की जाएगी।

सेक्टर मजिस्ट्रेट ने की पूछताछ

बता दें कि लड़की लाइन में लगी हुई थी कि तभी सेक्टर मजिस्ट्रेट की नजर बच्ची पर गई, फिर जब उससे उसका नाम,उम्र पूछा तो वह चौंक गए। इस मामले को जिलाधिकारी मुरादाबाद ने भी गंभीरता से लेते हुए जांच व कार्यवाही के आदेश दे दिए हैं। गौरतलब है कि किसी भी पोलिंग बूथ पर वोट डालने से पहले मतदाताओं से उनके नाम वगैरह पूछकर मिलान किया जाता है, सही होने पर ही कोई व्यक्ति वोट डाल सकता है।

वोट देने पहुंची 12 साल की बच्ची

दरअसल, मुरादाबाद की कुंदरकी विधानसभा संभल लोकसभा में लगती है इसलिए यहां भी वोटिंग प्रकिया चल रही थी। कुंदरकी के ही एक पोलिंग बूथ पर वोट डालने एक 12 साल की बच्ची भी पहुंची थी। लड़की लाइन में लगी हुई थी कि तभी सेक्टर मजिस्ट्रेट की नजर बच्ची पर गई, फिर जब उससे उसका नाम,उम्र पूछा तो वह चौंक गए। खुद लड़की ने अपनी उम्र 12 साल बताई, साथ ही कहा कि वह कक्षा 8 की छात्रा है। बूथ कर्मियों की पूछताछ में उसने अपना नाम फरहीन बताया।

जिलाधिकारी ने कही कार्रवाई की बात

कुंदरकी विधानसभा के जिलाधिकारी मानवेंद्र सिंह ने बताया कि मामला कुंदरकी विधानसभा के बूथ नंबर 398 का है। वहां एक बच्ची वोट डालने आई, बच्ची पूछताछ में अपनी उम्र 12 साल और खुद को कक्षा 8 की छात्रा बता रही है। बच्ची का नाम निर्वाचन नामावली में है और आधार कार्ड के माध्यम से वो वोट डालने आई थी। अब जांच का बिंदु है कि वो 12 साल की है तो उसका नाम निर्वाचन नामावली कैसे आया ? इस तथ्य की जांच कराई जाएगी और साथ ही इस प्रकरण में कौन-कौन शामिल हैं, इसकी भी जांच होगी।

आधार कार्ड को लेकर भी मिली शिकायतें

जिलाधिकारी ने कहा कि बच्ची नाबालिग है इसलिए उसके पेरेंट्स उसके आसपास के लोग ही इसमें इन्वॉल्व रहे होंगे। इसकी जांच कराएंगे और कड़ी कार्रवाई करेंगे। आधार कार्ड को लेकर भी शिकायतें मिली हैं, अधिकांश वोटर आधार कार्ड ही लेकर आए क्योंकि वो भी विकल्प है। ये भी शिकायत मिली है कि बड़ी संख्या में आधार कार्ड भी बने हैं। हम कुछ जगहों पर जांच भी करवाएंगे कोई अनियमितता पाई जाती है तो आगे की कार्रवाई जाएगी।

read more :  आम तौर पर सांसद एक होता है पर यहां आपको 2-2 मिलेंगे – प्रियंका गांधी

RELATED ARTICLES
- Advertisment -
Google search engine

Most Popular

Recent Comments