Happy Birthday Mala Sinha Ji Avp24News Wishes You

Happy Birthday Mala Sinha Ji Avp24News Wishes You

 

Happy Birthday Mala Sinha Ji Avp24News Wishes You
Happy Birthday Mala Sinha Ji Avp24News Wishes You

Happy Birthday Mala Sinha Ji Avp24News Wishes You }} फिल्म जगत की एक खूबसूरत और मशहूर अभिनेत्री जिनकी फिल्म हिमालय की गोद में, धूल का फूल, आंखें ,प्यासा ,बहारें फिर भी आएंगी, बहुरानी, जहांआरा , गुमराह, अनपढ़ दिल तेरा दीवाना, आसरा ,आंख मिचौली, नीलाकाश, 36 घंटे ,पतंगा, गहरा दाग जैसी सुपरहिट फिल्मों में कामयाबी हासिल की है। (Happy Birthday Mala Sinha Ji)

अब तक तो आप समझ ही गए होंगे कि हम किसकी बात कर रहे हैं । जी हां हम मशहूर फिल्म अभिनेत्री माला सिन्हा (Mala Sinha) जी की बात कर रहे हैं। माला सिन्हा ने अपने 3 दशक के कैरियर में लगभग 100 फिल्मों से ज्यादा अपने अभिनय का जौहर बिखेरा है।

“माला सिन्हा जी का जन्म”

फिल्म अभिनेत्री  माला सिन्हा का जन्म 11 नवंबर 1936 को हुआ था ।उनके पिता का नाम अलबर्ट सिन्हा है जो कि एक बंगाली हैं और उनकी मां नेपाली हैं ।

माला सिन्हा नेपाली भारतीय हैं ।उन्होंने हिंदी के अलावा बंगला और नेपाली फिल्में भी की हैं । वह अपनी प्रतिभा और सुंदरता दोनों के लिए जानी जाती हैं। उन्होंने 1950 के दशक में अपना फिल्मी सफर शुरू किया और 1970 के दशक तक हिंदी फिल्मों की अभिनेत्री रही ।

 

माला सिन्हा ने 1966 में नेपाली अभिनेता चितंबर प्रसाद लोहानी से शादी कर ली। उनके पति एक बिजनेसमैन हैं।शादी के बाद भी वह फिल्मों में अभिनय के लिए मुंबई आती रही और उनके पति नेपाल में अपना बिजनेस देखते रहें। माला सिन्हा की एक बेटी है जिसका नाम प्रतिभा सिंहा है, जो बॉलीवुड अभिनेत्री हैं।

 

1957 में बॉलीवुड अभिनेता और निर्देशक गुरुदत्त ने अपनी फिल्म प्यासा में माला सिन्हा को लिया। इस फिल्म के लिए वह पहले मधुबाला को लेना चाहते थे।

 

प्यासा के बाद उनकी प्रमुख कामयाब फिल्मों में फिर सुबह होगी 1958 में और यश चोपड़ा के निर्देशन में बनी फिल्म धूल का फूल 1959 में जिसने उन्हें पसंदीदा सितारे में बदल दिया।

 

उसके बाद 1958 में शुरुआती 60 के दशक में परवरिश 1958, उजाला, मैं नशे में हूं, दुनिया ना माने, लव मैरिज 1959, उसके बाद बेवकूफ 1960, माया 1961, हरियाली और रास्ता, दिल तेरा दीवाना 1962, अनपढ़ और मुंबई का चोर 1962 में आई ,और अन्य फिल्मों में अपने अभिनय से दर्शकों को लुभाती रही।

 

अपनी कामयाब फिल्मों में 1960 और 1970 के दशक की भूमिकाओं में उन्होंने राज कपूर, देवानंद, किशोर कुमार और प्रदीप कुमार जैसे बड़ी उम्र के अभिनेताओं के साथ काम किया । और 1950 के दशक में उभरते हुए सितारे जैसे कि शम्मी कपूर, राजेंद्र कुमार, राजकुमार के साथ भी उन्होंने काम किया।

इसके साथ ही माला सिन्हा ने अपने दौर के कई नए कलाकारों के साथ भी काम किया। जैसे कि मनोज कुमार, धर्मेंद्र, राजेश खन्ना, सुनील दत्त, संजय खान, जितेंद्र और अमिताभ बच्चन भी शामिल है। (Happy Birthday Mala Sinha Ji)

आज के दौर में कलाकारों में एक्टिंग डांसिंग और सिंगिंग बहुमुखी का धनी माना जाता है।

हिंदी फिल्म जगत के शुरुआत की अगर बात करें तो ऐसे कम ही कलाकार थे जिन्हें इन तीनों गुणों में महारत हासिल थी। इन्हीं कलाकारों में से एक माला सिन्हा भी हैं।

बचपन से ही गाने की शौकीन माला सिन्हा ने कभी फिल्मों में गाना तो नहीं गाया पर माला सिन्हा ने स्टेज शो के दौरान अपने से कला का प्रदर्शन जरूर दिखाया। जिसे दर्शकों ने काफी पसंद किया।

माला सिन्हा की गिनती भी उन्हीं अभिनेत्रियों में होती है।जिन्होंने फिल्मों में लंबा सफर तय किया और अपनी अलग पहचान बनाई । माला सिन्हा जब हिंदी फिल्मों में आई थी।

बादशाह से हिंदी फिल्मों में एंट्री करने वाली माला सिन्हा ने 100 से ज्यादा फिल्में की। माला सिन्हा को देखकर लोगों ने कहा कि यह नेपाली लड़की नाक, नक्शा वाली हिंदी फिल्मों में क्या चलेगी। लेकिन जब माला सिन्हा को सफलता मिली तो लोगों के मुंह अपने आप बंद हो गए।

आपको बता दें कि माला सिन्हा ने सबसे पहले ऑल इंडिया रेडियो में कोलकाता केंद्र से गायिका के रूप में अपने कैरियर की शुरुआत की। फिर उसके बाद बांग्ला फिल्मों के जरिए रुपहले पर्दे पर पहुंच गई।

उन्होंने बंगाली फिल्म ‘जय वैष्णो देवी’ में बतौर बाल कलाकार काम किया । उनकी बंगला फिल्मों में लौह कपाट को काफी प्रसिद्धि हासिल है।

 

“माला सिन्हा जी की कुछ ख़ास बातें”

 

आपको बता दें कि प्यासा फिल्म से माला सिन्हा की तकदीर बदल गई । इस फिल्म में उनकी अदाकारी को आज भी लोग याद करते हैं। जहांआरा में माला सिन्हा ने शाहजहां की बेटी जहांआरा का किरदार बहुत ही खूबसूरती से निभाया था। और मर्यादा में उन्होंने डबल भूमिका निभाई थी।

साठ के दशक में माला सिन्हा ने कई सुपरहिट फिल्में की थी। उनकी यादगार फिल्मों में प्यासा, फिर सुबह होगी ,उजाला, धर्मपुत्र ,अनपढ़, आंखें, गीत, गुमराह, गहरा दाग, जहांआरा, अपने हुए पराए, संजोग ,नीलाकाश, नई रोशनी, मेरे हुजूर, देवर भाभी, हरियाली और रास्ता ,हिमालय की गोद में, धूल का फूल, कर्मयोगी और जिंदगी है।

माला सिन्हा में हर तरह के किरदार निभाने की काबिलियत थी । यही वजह है कि उस वक्त के सारे डायरेक्टरों ने माला सिन्हा के साथ काम किया।

जैसे कि केदार शर्मा, बिमल रॉय, सोहराब मोदी ,बीआर चोपड़ा, यश चोपड़ा, अरविंद सेन, रामानंद सागर, शक्ति सामंत, गुरुदत्त, विजय भट्ट ,ऋषिकेश मुखर्जी ,सुबोध मुखर्जी, सत्यसेन बोस ने माला को हीरोइन बनाया।

अभिनेत्री माला सिन्हा ने सभी तरह की भूमिकाएं बखूबी निभाई हैं ।ऐसे में परिवारिक फिल्म करने में बहुत ही निपुण थी। जिन्हें देखकर महिलाओं की आंखों से आंसू छलक जाते थे।

माला सिन्हा के अभिनय की इसी खूबी की वजह से दक्षिण भारतीय निर्देशकों को वह बहुत पसंद थी। जो कॉकटेल फैमिली और कहकहो ड्रामा में चित्रित करने में महारत हासिल थी।

माला सिन्हा अपने जमाने के हर नामचीन अभिनेता के साथ नायिका की भूमिका में नजर आई। शायद ही कोई ऐसा रह गया हो जिसने उनके साथ ना काम किया हो।

अभिनेत्री  माला सिन्हा लगातार 1954 से 1985 तक फिल्मों में काम करती रही। 1985 में उनकी फिल्म दिल तुझको दिया मुकम्मल करने के बाद माला सिन्हा को लगा कि बढ़ती उम्र और ग्लैमर की वजह से उनका जमाना सिमट गया है। मां और बहन के रोल में वह नहीं आना चाहती थी।

इसलिए उन्होंने ऐसी फिल्मों को करने से मना कर दिया और फिल्में करना छोड़ दिया। इसके बाद 1991 में राकेश रोशन ने उन्हें खेल में फिर से कैमरे के सामने लाने में सफल रहे ।इसके बाद उन्होंने दो फिल्में और की राधा का संगम 1992 और जिद 1994 में की और उसके बाद फिर उन्होंने फिल्मों को अलविदा कह दिया।

माला सिन्हा को उनके जन्मदिन के अवसर पर उनकी लंबी आयु की कामना करते हुए हमारी
एवीपी 24 न्यूज़ की पूरी टीम की तरफ से हार्दिक शुभकामनाएं ।

Previous Post } Neet Latest News In Hindi Neet Taza Khabar Samachar
Previous Post American President Election 2020 Result Kaun Jeeta Kaun Hara

Previous Post Hathras Gang Rape Case Latest News Samachar In Hindi

Happy Birthday Mala Sinha Ji Avp24News Wishes You

1 COMMENT

Comments are closed.