Paanch Laakh Kisano Ko 100 Karod Rupaye Degi Madhya Pradesh Sarkar

Paanch Laakh Kisano Ko 100 Karod Rupaye Degi Madhyapradesh Sarkar
Image credit Wikipedia.org
Paanch Laakh Kisano Ko 100 Karod Rupaye Degi Madhya Pradesh Sarkar
Image credit Wikipedia.org

Paanch Laakh Kisano Ko 100 Karod Rupaye Degi Madhya Pradesh Sarkar,madhya pradesh sarkar 100 crore kisan yojna,madhya pradesh kisan kalyan yojna ,kisan kalyan yojna kya hai,kisan kalyan yojna ke fayde

पांच लाख किसानो को 100 करोड़ रुपये देगी मध्यप्रदेश सरकार
Paanch Laakh Kisano Ko 100 Karod

एक तरफ कृषि कानून के खिलाफ किसान आंदोलन आठवें दिन भी जारी है तो दूसरी तरफ मध्यप्रदेश के मुख्यमंत्री शिवराज सिंह चौहान गुरुवार के दिन पांच लाख किसानों को नई सौगात देने वाले हैं।

मुख्यमंत्री किसान कल्याण योजना के अंतर्गत पांच लाख किसानों के खातों में 100 करोड़ रुपये भेजे जायेंगे। इसकी जानकारी उन्होंने खुद ट्वीट करके दी है।

मुख्यमंत्री शिवराज सिंह चौहान ने ट्वीट कर बतया, ‘मुख्यमंत्री किसान कल्याण योजना के अंतर्गत 100 करोड़ रुपये आज प्रदेश के पांच लाख किसानों के खाते में डाले जा रहे हैं।

Paanch Laakh Kisano Ko 100 Karod Rupaye Degi Madhya Pradesh Sarkar

यह जारी रहेगा और इसका लाभ लगभग 80 लाख किसानो को मिलेगा। किसानों के कल्याण के लिए जो कदम उठाने जाने चाहिए, हमारी सरकार लगातार वो वो क़दम उठा रही हैऔर हम इसमें कोई कसर नहीं छोड़ेंगे।’

आपको बताते चलें की पिछली बार की असफल बातचीत के बाद आज दोबारा किसानों और सरकार के बीच बात शुरू हो चुकी है। उम्मीद जताई जा रही है कि इससे कोई हल निकल सकता है।

आंदोलन की वजह से गुरुवार को लगातार आठवें दिन दिल्ली एनसीआर का यातायात प्रभावित है। कई बॉर्डर अभी भी बंद हैं और कई सड़कों को किसानों ने जाम कर दिया है।

प्रकाश सिंह बादल ने पद्म विभूषण लौटाया
Paanch Laakh Kisano Ko 100 Karod

Paanch Laakh Kisano Ko 100 Karod Rupaye Degi Madhya Pradesh Sarkar
image credit Twitter.com/badal_parkash

पंजाब के पूर्व मुख्यमंत्री प्रकाश सिंह बादल ने भारत सरकार से मिले पद्म विभूषण सम्मान को वापस लौटा दिया है और ऐसा उन्होंने किसान आंदोलन के समर्थन और कृषि कानूनों के विरोध में किया है।

पूर्व मुख्यमंत्री बादल का कहना है कि वे किसानों के साथ किए जा रहे केंद्र सरकार के व्यवहार से आहत हैं। उन्होंने राष्ट्रपति रामनाथ कोविंद को पत्र भी लिखा है। पत्र में उन्होंने लिखा है कि मैं इतना गरीब हूं कि किसानों के लिए कुर्बान करने के लिए मेरे पास कुछ और नहीं है और मैं जो भी हूं किसानों की वजह से हूं।

“Related Post”

MDH Masale Ke Malik Dharampal Gulati Ka 98 Ki Umr Me Nidhan,Nhi Rahe Masalon Ke Baadshah

Pradhanmantri Modi Pahunche Varansi Kya Bole Dev Deepawali Ke Awsar Par 

Kisano Ka Dilli Me Virodh Pradarshan Jaane Kya Hai Poora Mamla

Britain Me Aa Gayi Corona Ki Vaccine Bharat Me pahunchna Hai Mushkil Jaanein Kyun 

MP Gov Site