करौली में नरेगा साइट का न्यायाधीश ने किया औचक निरीक्षण

न्यायाधीश बीना गुप्ता

जयपुर के करौली राज्य विधिक सेवा प्राधिकरण निर्देशानुसार माह मई 2022 के एक्शन प्लान अभियान के तहत सेशन न्यायाधीश विधिक सेवा प्राधिकरण करौली व पैरा लीगल वॉलेन्टियर्स के माध्यम से जिले में संचालित विभिन्न स्टोन खदानों, स्टोन क्रेशर, मनरेगा साईट आदि का निरीक्षण किया | वहां पर विधिक जागरूकता शिविरों का आयोजन किया जा रहा है, जिसमें लोगों को बालश्रम, बाल विवाह, बाल तस्करी शिक्षा का अधिकार आदि की जानकारी प्रदान की जा रही है।

इसी क्रम में जिला विधिक सेवा प्राधिकरण की सचिव एवं अपर जिला एवं सेशन न्यायाधीश बीना गुप्ता द्वारा दिनांक 28.05.2022 को मासलपुर पंचायत समिति की रतियापुरा में मनरेगा योजना अंतर्गत सुगम तालाब की खुदाई में पाल मरम्मत कार्य का औचक निरीक्षण किया गया। वक्त निरीक्षण कार्यस्थल पर उपस्थित मजदूरों/श्रमिकों से बातचीत की गई तथा उनकी समस्याओं व उनको मिलने वाले भुगतान के बारे में पूछा गया तथा निरीक्षण के दौरान कार्यस्थल पर किसी मजदूर का शोषण तो नहीं हो रहा व कोई बाल श्रम तो नहीं कराया जा रहा है व संधारित रिकॉर्ड का निरीक्षण किया उपस्थित श्रमिकों ने बताया कि उन्हें इस वर्ष में पहली बार मस्ट्रोल जारी कर कार्य दिया गया है। निरीक्षण के दौरान ग्राम विकास अधिकारी श्यामसुंदर शर्मा उपस्थित मिले, जिन्हें श्रमिकों के लिए जल, छाया आदि की उचित व्यवस्था करने के निर्देश दिए।

Read More :“मुझे और मेरे परिवार को जान का ख़तरा …..” नूपुर शर्मा

इस अवसर पर सचिव बीना गुप्ता ने बताया कि बाल श्रम / बाल मज़दूरी व बाल विवाह कराया जाना कानूनन अपराध है। निरीक्षण के दौरान उपस्थित मजदूरों श्रमिकों को उनके लिए केंद्र एवं राज्य सरकार द्वारा चलाई जा रही विभिन्न जन कल्याणकारी योजनाओं की जानकारी दी गई।