अगर यह संकेत यहां है, तो जीवन में कोई गंभीर बीमारी नहीं होता है

rekha

 एस्ट्रो डेस्क : हृदय रेखा विज्ञान में त्रिभुजों को बहुत प्रभावशाली माना जाता है। यह उस पर्वत या रेखा के प्रभाव को बढ़ाता है जिस पर यह बनता है। लेकिन इसका प्रभाव कैसे और किस तरह का होगा, यह इस बात पर भी निर्भर करता है कि इसे कैसे और कहां बनाया गया है। हस्तरेखा शास्त्र के अनुसार आयु रेखा में त्रिभुज होने से व्यक्ति को लंबी उम्र मिलती है। शीर्षक का त्रिकोण व्यक्ति को उच्च शिक्षा और तेज बुद्धि देता है। स्वास्थ्य रेखा में त्रिभुज होने पर व्यक्ति को उत्तम स्वास्थ्य की प्राप्ति होती है। ऐसे व्यक्ति को कोई गंभीर बीमारी नहीं होती है। सूर्य रेखा में त्रिभुज होने से व्यक्ति देश-विदेश में प्रसिद्धि पाता है।

 हाथ की हथेली में त्रिभुज ही नहीं, बल्कि उसके अंदर बने निशानों का भी प्रभाव होता है। यदि त्रिकोण के अंदर एक क्रॉस का निशान है, तो यह व्यक्ति दूसरों को नुकसान पहुंचाने वाला है। यदि त्रिभुज के बीच में क्रॉस हो तो व्यक्ति अंधा होता है। यदि त्रिकोण के अंदर एक तारा चिन्ह है, तो व्यक्ति प्यार में विफल रहता है और उसका अपमान होता है।

 आज का जीवन मंत्र : बड़ों को आगे बढ़कर सभी से मिलना चाहिए

यदि शनि पर्वत में त्रिभुज हो तो व्यक्ति तंत्र-मंत्र में निपुण होता है। यदि यह त्रिभुज अशुद्ध हो जाए तो जातक बड़ा धोखेबाज और धोखेबाज बनता है। सूर्य पर्वत में त्रिभुज की उपस्थिति व्यक्ति को पवित्र, दयालु और परोपकारी सिद्ध करती है। यदि इस स्थान पर अपराध का त्रिकोण हो तो जातक को समाज में निंदा, जीवन में असफलता और सौभाग्य में वृद्धि होती है। बुध पर त्रिकोण चिन्ह वाला व्यक्ति एक सफल वैज्ञानिक बनता है और विदेश में व्यापार में भी सफलता प्राप्त करता है। यदि इस स्थान पर दोषपूर्ण त्रिभुज हो तो व्यक्ति की संचित पूंजी भी समाप्त हो जाती है, व्यापार दिवालिया हो जाता है और समाज की बदनामी होती है।

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here